बुलंदशहर:पहले सुमित फिर इंस्पेक्टर की हुई ,एक ही पिस्टल से हत्या! ‬

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में गाय कटान के मामले में पुलिस और भीड़ के बीच हुए विवाद में सब कुछ इतना सरल नजर नहीं आ रहा। आखिरकार गोकशी के मामले में अचानक से भीड़ इतनी उग्र क्यों हो गयी कि एक दारोगा की हत्या कर दी?

सुमित को गोली लगने के बाद भीड़ ने किया इंस्पेक्टर पर हमला:

यूपी के डीजीपी ओपी सिंह के उस बयान से भी इस सवाल को बल मिलता है, जिसमें उन्होंने इस पूरे विवाद को साजिश का नाम दिया।

दारोगा सुबोध सिंह और युवक सुमित कुमार की हत्या से सम्बन्धित जो वीडियो और प्रत्यक्षदर्शियों के बयान सामने आ रहे हैं, वो भी कई सवाल खड़ें कर रहें हैं।

इस पूरे विवाद का एक वीडियो सामने आया है जिसमें सुमित नाम के युवक को गोली लगने के बाद भीड़ उग्र हो गई। जिसके बाद भीड़ ने अकेले रह गए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह को घेर कर उन पर हमला कर दिया। वहीं वीडियो में कुछ लोग लहुलुहान सुमित को ले जाते हुए भी दिखाई दे रहे हैं।

वहीं इस वीडियो में लोग पुलिस वालों पर हमला करने की बात भी कर रहे हैं। इस वीडियो को लेकर एडीजी ने बताया कि प्रथम दृष्टया में सुमित भीड़ का हिस्सा था। बहरहाल पुलिस वीडियो की जांच कर रही है और इस बात की भी जाँच की जा रही है कि सुमित को किसकी पिस्टल से गोली लगी।

पुलिस की इस जांच से ये भी पता चल जायेगा कि दारोगा सुबोध को किसने गोली मारी क्योंकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक़ दोनों को गोली लगी है, लेकिन दारोगा को 3.0 बोर की पिस्टल से गोली लगी है जो कि पुलिस वाले इस्तेमाल नहीं करते।

सुमित को लगी गोली की रिपोर्ट आने के बाद ये साफ़ हो जायेगा कि क्या दोनों को एक ही पिस्टल से गोली लगी या अलग अलग। ये भी साफ़ हो जायेगा कि सुमित को पुलिस की गोली लगी या भीड़ में किसी की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News