बुलंदशहर हिंसा में मारे गए सुबोध कुमार का बेटा बोला,हिंदू-मुसलमान के झगडे़ में मेरे पिता की मौत हुई

उत्तर प्रेदश के बुलंदशहर जिले के स्याना कोतवाली, महाव गांव में सोमवार को गोकशी के बाद भड़की हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह समेत एक युवक की भी मौत हो गई। आज सुबोध सिंह का अंतिम संस्कार किया जाएगा। इस हिंसा में स्याना के सीओ समेत आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल हो गए। घटना के बाद भड़की हिंसा में इंस्पेक्टर स्याना सुबोध कुमार सिंह और ग्रामीण की मौत के मामले की जांच के लिए एडीजी इंटेलीजेंस एसबी शिरडकर को भेजा गया है। उनसे 48 घंटे में अपनी गोपनीय जांच रिपोर्ट देने को कहा गया है।बताया जा रहा है कि गोकशी के बाद हुए बवाल में हमलावर भीड़ ने पुलिसकर्मियों को घेर लिया था। इस दौरान इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की पिस्टल छीनकर उनके सिर में गोली मार दी गई।बुलंदशहर से शहीद सुधीर कुमार राठौर का शव एटा उनके पैतृक गांव पहुंचने वाला है। गांव में सलामी से लेकर अंतिम संस्कार तक की तैयारी कर ली गई। आसपास गांव की भीड़ जुटना शुरू हो गई है सुधीर के अंतिम दर्शन के लिए सांसद विधायक डीएम एसएसपी सहित सैकड़ों की संख्या में लोग उनके गांव में पहुंच गए।मेरे पिता मुझे एक अच्छा नागरिक बनाना चाहते थे, जो धर्म के नाम पर कभी कोई लड़ाई-झगड़ा ना करे। आज हिंदू-मुसलमान के झगड़े में मेरे ही पिता की जान चली गई। कल किसके पिता की जान जाएगी ? : मृतक सुबोध कुमार सिंह का बेटा अभिषेक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News