सेक्स स्कैंडल में फंसे कर्नाटक के मंत्री,सरकारी नौकरी के लिए यौन संबंध के लिए दबाव

कर्नाटक की राजनीति में एक सेक्स सीडी को लेकर बवाल मचा हुआ है. आरोप है कि इस सीडी में जल संसाधन मंत्री रमेश जारकीहोली एक महिला के साथ नजर आ रहे हैं. सामाजिक कार्यकर्ता दिनेश कल्लाहल्ली ने सीडी जारी करते हुए आरोप लगाया कि मंत्री रमेश जारकीहोली ने महिला का नौकरी दिलाने के नाम पर यौन शोषण किया.

इस सेक्स सीडी के सामने आने के बाद कांग्रेस ने बीजेपी पर निशाना साधा है. कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा को तुरंत रमेश जारकीहोली का इस्तीफा लेना चाहिए और इस मामले में एफआईआर दर्ज कराना चाहिए, ये सरकार सबसे करप्ट है.

वहीं, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डीके शिवकुमार ने कहा कि यह सिर्फ सेक्स स्कैंडल नहीं है, वीडियो में मंत्री ने कहा कि सीएम भ्रष्ट हैं, सीएम को इसका जवाब देना होगा, गेंद अब उनके कोर्ट में है, आइए इंतजार करें और देखें कि सीएम क्या करेंगे, मुझे लगता है कि बीजेपी समझदार है और वे सही फैसला लेंगे.

कांग्रेस विधायक रिजवान अरशद ने कहा कि रमेश जारकीहोली को तुरंत मंत्री पद से हटाना चाहिए, साथ ही आपराधिक कार्यवाही शुरू की जानी चाहिए, एक महिला को नौकरी देने का वादा किया गया था, मंत्री ने इसके लिए अपने कार्यालय पावर का उपयोग किया, यह अब उनका निजी जीवन नहीं है, उन्होंने यहां मंत्री के रूप में काम किया.

क्या है पूरा मामला आरोप है कि मंत्री ने रमेश जारकीहोली कर्नाटक पावर ट्रांसमिशन कॉरपोरेशन लिमिटेड (KPTCL) में महिला को नौकरी दिलाने के नाम पर उसका यौन उत्पीड़न किया, लेकिन बाद में वह अपने वादे से मुकर गए. सामाजिक कार्यकर्ता और नागरिक हक्कू होरता समिति के अध्यक्ष दिनेश कल्लाहल्ली ने मीडिया को सीडी जारी की है.

मैंने एक महिला के यौन उत्पीड़न के आरोप में मंत्री रमेश जारकीहोली के खिलाफ पुलिस आयुक्त के पास शिकायत दर्ज कराई है.’ उन्होंने कहा, ‘यह संवेदनशील मामला है. पीड़िता के परिजनों ने मदद के लिए संपर्क किया था. वे अकेले यह लड़ाई नहीं लड़ सकते हैं. मैं एक सामाजिक कार्यकर्ता हूं और इसलिए परिजनों ने ने मुझसे संपर्क किया.’

मंत्री ने आरोपों को किया खारिज इस मामले में मंत्री रमेश जारकीहोली ने कहा, ‘मेरे पास एक ही जवाब है कि यह राजनीतिक साजिश है. यह फर्जी है.इसकी पूरी जांच होनी चाहिए. अपराधियों के खिलाफ मामला दर्ज होना चाहिए. मैं किसी को नहीं जानता.’

वहीं, इस मामले में कर्नाटक के गृह मंत्री ने कहा कि शिकायत के आधार पर कार्रवाई की जा रही है. रमेश जारकीहोली पर हमारी पार्टी फैसला लेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News