सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ़ इंडिया के पुणे प्लांट में लगी आग, पाँच लोगों की मौत

पुणे
महाराष्ट्र के पुणे स्थित वैक्सीन बनाने वाली कंपनी सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया के मंजरी प्लांट में गुरुवार को आग लग गई। हादसे में 5 निर्माण मजदूरों की जान चली गई। आग लगने से इंस्टिट्यूट को हुए कुल नुकसान के बारे में अभी जानकारी नहीं है। साथ ही आग लगने का कारण भी अभी अस्पष्ट है। हादसे में कोरोना वैक्सीन को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। दरअसल, आग इंस्टिट्यूट के निर्माणाधीन और नए प्लांट में लगी है। वहां से कोरोना वैक्सीन बनाने वाला प्लांट काफी दूर है।
जानकारी के अनुसार, सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया के मंजरी प्लांट में यह हादसा हुआ, जो संस्थान के गेट नंबर-1 पर स्थित है। जिस प्लांट में कोरोना की वैक्सीन बन रही है, वह गेट नंबर- 3, 4 और 5 पर मौजूद है। यहीं स्थित प्लांट में कोरोना वैक्सीन का निर्माण और भंडारण किया जाता है। बताया गया कि यह तीनों गेट हादसे वाली जगह से एकदम उल्टी दिशा में हैं। आग पर काबू पाने की कोशिश की जा रही है।
संस्थान के अधिकारियों ने बताया कि हादसे में कोरोना वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है लेकिन टीबी की बीमारी में काम आने वाली बीसीजी वैक्सीन को नुकसान पहुंचा है। अधिकारियों ने बताया कि हालांकि, मंजरी प्लांट में बीसीजी का ज्यादा स्टॉक नहीं था, इसकी वजह से बहुत ज्यादा नुकसान नहीं हुआ है।

दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता कंपनी
सीरम इंस्टिट्यूट दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता कंपनी है। यहां बनने वाली वैक्सीन के सबसे ज्यादा डोज दुनिया भर में बेचे जाते हैं। जानकारी के मुताबिक, 1.5 बिलियन से भी ज्यादा वैक्सीन के डोज दुनिया भर में सीरम इंस्टिट्यूट से बिकने के लिए जाते हैं। इनमें पोलियो, आर-हिपेटाइटिस बी, टिटनस, डिप्थीरिया, टीबी आदि बीमारियों के वैक्सीन शामिल हैं।

फ़ायर ब्रिगेड अफ़सर प्रशांत रानपीसे ने पहले बताया था, “आग लगने के बाद पूरी इमारत को ख़ाली करवा दिया गया है. लेकिन चार लोग उसमें फँसे रह गए थे जिसमें से तीन को बाहर निकाल लिया गया है.”

स्थानीय विधायक चेतन तुपे भी मौक़े पर पहुँच चुके थे और उन्होंने कहा था कि आग सेज़-3 इमारत में लगी है और वैक्सीन बनाने का काम इस इमारत में नहीं किया जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News