अयोध्या : हुजूर यहां सड़क पर गड्ढे है या गड्ढे में ही सड़क,गड्ढे में तब्दील फैजाबाद-रायबरेली का बुरा हाल

फैजाबाद-रायबरेली रोड ढाई वर्ष पहले पीडब्ल्यूडी से एनएचएआई को ट्रांसफर।

फोटो- फैजाबाद रायबरेली रोड के गड्ढों से जोखिम भरा आवागमन।

अयोध्या ! फैजाबाद-रायबरेली रोड पर कुमारगंज तक का सफर आसान नहीं। 40 किलोमीटर के लंबे सफर में अनगिनत गड्ढे मिलेंगे जिनकी संख्या डीआरडीए एई एसके त्रिपाठी के अनुसार ढाई सौ से ज्यादा है।त्रिपाठी विभागीय कार्य से अमानीगंज ब्लाॅक गए थे। लौटने के लिए इस रास्ते से तौबा कर लिया। वाया रुदौली से लखनऊ-अयोध्या हाईवे से लौटे।फोरलेन के लिए यह सड़क पीडब्ल्यूडी करीब ढाई वर्ष पहले एनएचएआई को ट्रांसफर कर चुकी है। फोरलेन का निर्माण व उस सड़क को चलने लायक बनाए रखने की जिम्मेदारी अब एनएचएआई की है। फोरलेन के लिए 37 राजस्व गांव में से अभी आठ का अवार्ड होना है। जब यह आठ गांव भी अवार्ड हो जाएंगे, तभी निर्माण कार्य फोरलेन का शुरू होगा।
पीडब्ल्यूडी के अधीक्षण अभियंता केके पहुजा ने बताया कि फैजाबाद रायबरेली सड़क पर अनगिनत गड्ढों का मामला 17 जून को मंडलीय समीक्षा बैठक में कमिश्नर एमपी अग्रवाल के सामने उठ चुका है। कमिश्नर की नाराजगी भाप एनएचएआई रायबरेली के प्रोजेक्ट मैनेजर नितिन चौधरी को कहना पड़ा कि सड़क को चलने लायक बनाने के लिए ई टेंडर हो चुका है। 15 दिन में सड़क के गड्ढे खत्म कर आवागमन को आसान कर देंगे। एनएचएआई को जगदीशपुर-अमेठी से फैजाबाद शहर से रायबरेली रोड को फोरलेन में तब्दील करना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News