अमेठी : राजन नाई हत्याकांड का फुरसतगंज थानाध्यक्ष राजीव सिंह ने किया खुलासा

मामले में आरोपी बनाए गए पांच अभियुक्तों में से एक गिरफ्तार।पुलिस ने गिरफ्तार अभियुक्त की निशानदेही पर आला कत्ल के रूप में बांका भी किया बरामद।16 अक्टूबर को तरौना गांव निवासी युवक राजन का बेरहमी से हुआ था कत्ल।

फुरसतगंज (अमेठी) ! विगत माह फुरसतगंज थाना क्षेत्र में हुई राजन नाई हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा कर दिया है।इस हत्याकांड में सामिल पांच अभियुक्तों में से पुलिस ने एक को गिरफ्तार कर लिया।साथ ही पुलिस ने गिरफ्तार अभियुक्त की निशानदेही पर आला कत्ल के रूप में बांका भी बरामद कर लिया है।फुरसतगंज के प्रभारी निरीक्षक राजीव सिंह ने बताया कि बड़ी मेहनत के बाद घटना का सफलता पूर्वक अनावरण हो गया है।एक अभियुक्त गिरफ्तार है।शेष अन्य फरार चल रहे चारों अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए दविश दी जा रही है।इन्होंने बताया कि इन पांचों हत्यारों ने मिलकर 16 अक्टूबर को युवक राजन नाई की धारदार हथियार से बड़ी बेरहमी के साथ नृसंश हत्या कर दी थी।इतना ही नही हत्यारों ने युवक का एक हाथ काटकर गांव के बाहर बने पुल पर रख दिया था।नहर के पुल पर कटा हाथ व पांच सौ मीटर दूर शव पड़ा होने की सूचना से क्षेत्र में सनसनी फैल गयी थी।
बताते चले कि फुरसतगंज थाना क्षेत्र के तरौना गांव निवासी राजन पुत्र रामनरेश नाई बुधवार की सुबह घर से गांव के बाहर स्थित पुलिया के पास घूमने गया था,परंतु देर शाम तक घर नहीं पहुंचा।जिसकी परिजनों ने काफी खोजबीन भी की।लेकिन सुराग नही लगा।सुबह शौच को गए ग्रामीणों ने गांव से बाहर बने पुल पर एक कटा हाथ रखा देखा।और वहां से करीब पांच सौ मीटर दूरी पर नहर की पटरी पर क्षत-विक्षत हालत में शव भी पड़ा देखा गया।ये बात पूरे क्षेत्र में मानों जंगल मे आग की तरह फैल गई।जिसकी भनक मृतक के परिजनों को भी लगी।परिजन तत्काल घटना स्थल पर पहुंचे और शव की पहचान अपने बेटे राजन के रूप में की।ग्रामीणों की सूचना पर फुरसतगंज के थानाध्यक्ष राजीव सिंह सहित सीओ व एसपी भी मौके पर पहुंच घटनास्थल का निरीक्षण किया।तत्पश्चात थानाध्यक्ष ने शव को कब्जे में लेकर पीएम को भेजा।थानाध्यक्ष राजीव सिंह ने मृतक के पिता की तहरीर पर अ0 सं0 137/19 धारा 302,201,34,120 बी के तहत मुकदमा दर्ज किया।तत्पश्चात पुलिस अधीक्षक ख्याति गर्ग के निर्देशन व क्षेत्राधिकारी तिलोई राजकुमार सिंह के कुशल मार्गदर्शन में थानाध्यक्ष राजीव सिंह ने इस हत्याकांड की विवेचना करते हुए मंगलवार को घटना का खुलासा करते हुए इस हत्याकांड में सामिल पांच अभियुक्तों संदीप सिंह,रणधीर सिंह पुत्रगण शिवकरन सिंह,मोहित सिंह पुत्र रामकरन सिंह,धर्मेन्द्र सिंह पुत्र रामबहादुर सिंह निवासीगण ग्राम संबसी थाना फुरसतगंज व पंकज सिंह पुत्र रामलखन सिंह ग्राम खैरहना थाना फुरसतगंज में से एक अभियुक्त संदीप सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।साथ ही गिरफ्तार अभियुक्त की निशादेही पर आला कत्ल के रूप में बांका भी बरामद किया।इन्होंने बताया कि राजन अपराधियों की सक्रिय सूची में था।इसके विरुद्ध मारपीट के कई मामले थाने के अभिलेखों में दर्ज है।इन्होंने बताया मृतक द्वारा धर्मेन्द्र सिंह की पत्नी से बत्तमीजी करना इसकी मौत की वजह बनी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News