पेट्रोल डीजल के दामो से राहत के लिए RBI गवर्नर ने दिए सुझाव

पेट्रोल डीजल (Petrol Diesel Price) की कीमतें आसमान पर पहुंच गई है. वहीं जनता को पेट्रोल डीजल की महंगाई से राहत देने के लिए केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के ऊपर टैक्स में कटौती करने का दबाव बढ़ने लग गया है. आम जनता से लेकर विपक्ष पेट्रोल-डीजल पर लगने वाले टैक्स को कम करने की मांग कर रहा है. इन सबके बीच भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास (RBI Governor Shaktikanta Das) ने टैक्स में कमी करके पेट्रोल-डीजल की कीमतों को काबू में करने के लिए सुझाव दिया है. बता दें कि रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक (MPC) के मिनट्स से इस बात की जानकारी सामने आई है.

बता दें कि देश के कई राज्यों में पेट्रोल 100 रुपये प्रति लीटर के पार पहुंच गया है. पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर विपक्ष सरकार के ऊपर लगातार हमलावर है. शक्तिकांत दास ने कहा है कि दिसंबर महीने के दौरान कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (फूड फ्यूल छोड़कर) 5.5 फीसदी दर्ज किया गया है. वहीं दूसरी ओर कच्चे तेल की कीमत में लगातार बढ़ोतरी दर्ज की गई है. यही वजह है कि पेट्रोल-डीजल की कीमतों में भी लगातार बढ़ोतरी हो रही है. उनका कहना है कि पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ने से ट्रांसपोर्टेशन महंगा हो गया है जिसकी आंच सभी सेक्टर तक पहुंच रही है.

किन राज्य में है कितना वैट
गौरतलब है कि राजस्थान सरकार ने पिछले महीने यानि जनवरी पेट्रोल डीजल पर लगने वाले वैट में दो फीसदी की कमी का ऐलान किया था. राजस्थान में मौजूदा समय में पेट्रोल के ऊपर 36 फीसदी का वैट लगता है, इसके अलावा 1 लीटर पेट्रोल पर 1.5 रुपये का रोड डेवलपमेंट सेस भी लिया जाता है. दूसरी ओर राजस्थान में डीजल के ऊपर 26 फीसदी वैट के अलावा 1 लीटर डीजल पर 1.75 रुपये का रोड डेवलपमेंट सेस लगता है. मध्य प्रदेश की बात करें तो पेट्रोल के ऊपर 33 फीसदी वैट लगता है. MP में हर एक लीटर के ऊपर 4.50 रुपये सेस लगता है. MP में डीजल पर 23 फीसदी वैट के अलावा 3 रुपये प्रति लीटर सेस देना पड़ता है. देश की राजधानी दिल्ली में पेट्रोल पर 30 फीसदी डीजल पर 16.75 फीसदी वैट है. दिल्ली में डीजल पर 0.25 रुपये प्रति किलोलीटर वायु परिवेश शुल्क भी वसूला जाता है. केंद्र शासित प्रदेश अंडमान एवं निकोबार में पेट्रोल डीजल पर वैट की दर 6 फीसदी है.

HIGHLIGHTS

  • RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने टैक्स में कमी करके पेट्रोल-डीजल की कीमतों को काबू करने का सुझाव दिया
  • RBI गवर्नर शक्तिकांत दास की केंद्र राज्य सरकारों से इनडायरेक्ट टैक्स में कटौती करने की अपील

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News