विकास दुबे के फाइनैंसर जय बाजपेई की कार पर चस्पा है, बीजेपी विधायक का विधानसभा पास

कानपुर के बिकरू कांड के मुख्य आरोपित विकास दुबे को कारतूस सप्लाई करने वाला जय बाजपेई लग्जरी कार में विधानसभा का फर्जी पास चस्पा करके चलता था। पुलिस की जांच में यह खुलासा हुआ है। फर्जीवाड़ा सामने आने पर अब जय के खिलाफ धोखाधड़ी की एफआईआर भी दर्ज की जाएगी। वहीं, विजय नगर में मिलीं तीनों कारों के बारे में काकादेव पुलिस और तथ्य जुटा रही है। यह पास अलीगंज एटा के भाजपा विधायक सत्यपाल सिंह राठौर के नाम पर जारी हुआ है।

विकास के खजांची जय ने रसूख जमाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी थी। काकादेव पुलिस ने पांच जुलाई को विजय नगर से लावारिस हालत में तीन लग्जरी कारें बरामद की थीं। जांच में पता चला कि इनका इस्तेमाल जयकांत कर रहा था।

कितनी बार सचिवालय में घुसा, होगी जांच
अब इसकी भी जांच होगी कि इस पास के जरिए जय कितनी बार सचिवालय और विधानसभा गया था। इसका भी रिकॉर्ड जुटाया जा रहा है। वह किन-किन लोगों से मिला यह भी पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है। फर्जी पास सामने आने के बाद से भी जय के करीबी नेता और मंत्रियों की धड़कन बढ़ गई है।
गाड़ी मालिक भी बनेगा आरोपित
फॉर्च्यूनर सचेंडी निवासी राहुल सिंह के नाम पर रजिस्टर्ड है लेकिन उससे जय चलता था। जांच पूरी होने के बाद जय के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा लिखा गया तो गाड़ी मालिक भी जांच के दायरे में आएगा। क्योंकि उसके नाम से रजिस्टर्ड गाड़ी पर फर्जी विधानसभा का पास चस्पा था।

अलीगंज विधायक और विकास के साथी की गाड़ी का पास एक
विकास दुबे के फाइनेंसर जय वाजपेयी की गाड़ी पर लगा सचिवालय का पास अलीगंज, एटा के विधायक सत्यपाल सिंह राठौर के नाम से जारी किया गया है। विधायक और जय की गाड़ी पर लगे पास के नंबर एक ही है। जानकारी मिलते ही विधायक लखनऊ के लिए रवाना हो गए। बुधवार की दोपहर को विधायक को इसकी जानकारी मिली। इसके लिए सचिवालय से उनके पास फोन भी आया। विधायक को गाड़ी पर मिलने वाला पास सचिवालय से जारी होता है। विधायक सत्यपाल सिंह राठौर का कहना है कि ये पास सचिवालय से बनकर मिलता है। इस नंबर के पास के लिए फर्जीवाड़ा किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News