पूर्व विधायक पवन पाण्डेय ने समर्पण किया, जेल भेजे गए

प्रयागराज। बाबरी मस्जिद विध्वंस के दौरान चर्चा में आये अम्बेडकर नगर निवासी पूर्व विधायक पवन पाण्डेय ने मंगलवार को विशेष जज एमपी एमएलए कोर्ट पवन कुमार तिवारी की अदालत में समर्पण कर दिया। उन्हें न्यायिक अभिरक्षा में लेकर जेल भेज दिया गया तथा उक्त प्रकरण में 27 अगस्त की तिथि निश्चित की गई है।

लखनऊ के हजरतगंज थाने में 29 अक्टूबर 1995 को विजय कुमार यादव ने रिपोर्ट लिखाकर अपने पिता लक्ष्मी शंकर यादव की हत्या किये जाने में पूर्व मंत्री अंगद यादव, रामेढ कालिया, सूरज पाल तथा कुछ अज्ञात लोगों को आरोपी बनाया था। पवन पाण्डेय का नाम पुलिस की विवेचना के दौरान अपराधियों को सहयोग व शरण देने में आया तो उनके खिलाफ धारा 216 में आरोप पत्र दाखिल हुआ जबकि अन्य को 147, 148, 149, 302 भा.द.विधान में आरोपित किया गया। उक्त प्रकरण में जमानत कराने के बाद पवन पाण्डेय न्यायालय में हाजिर नहीं हुए और उनके खिलाफ 2001 में गैर जमानती वारण्ट जारी हो गया।

पवन पाण्डेय ने आज विशेष जज एमपी एमएलए कोर्ट पवन कुमार तिवारी की अदालत में समर्पण कर दिया। उनकी तरफ से पक्ष रखा गया कि उनके अधिवक्ता गोविंद नारायण मिश्र 2001 में एमएलए हो गए और बाद में मंत्री, इसी कारण मुकदमे की जानकारी नहीं हो सकी। न्यायालय ने उनके तर्क को खारिज करते हुए जेल भेजे जाने का आदेश दिया। साथ ही जेल मैन्युअल के अनुसार पवन पाण्डेय को सुविधा दिए जाने का आदेश किया। सरकार की ओर से अपर जिला शासकीय अधिवक्ता राजेश गुप्ता ने पक्ष रखते हुए जमानत का विरोध किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News