महागठबंधन तोड़ने के बाद माया का ताना, पत्नी को भी नहीं जिता पाए अखिलेश

लखनऊ: लोकसभा 2019 में हार के बाद आज दिल्ली में बसपा प्रमुख मायावती ने एक समीक्षा बैठक की. बैठक में मौजूद सूत्रों के मुताबिक सपा-बसपा गठबंधन के नतीजों से नाखुश बसपा प्रमुख ने ऐलान किया कि आगामी कुछ महीनों में होने वाले 11 सीटों के उपचुनाव में बहुजन समाज पार्टी सभी सीटों पर अपने प्रत्य़ाशी उतारेगी. मायावती के इस फैसले से यह तय हो गया कि यूपी में सपा-बसपा के गठबंधन खत्म होने के कगार पर पहुंच चुका है. साथ ही मायावती ने ताना देते हुए कहा कि अखिलेश अपनी पत्नी को भी नहीं जिता पाए.
बसपा सुप्रीमो ने समीक्षा बैठक में माना कि गठबंधन के बावजूद सपा के वोट बसपा को ट्रांसफर नहीं हुए साथ ही उन्होंने इस रिजल्ट के लिए इवीएम को भी दोषी ठहराया. मायावती ने कहा कि समाजवादी पार्टी की आपसी फूट के कारण शिवपाल यादव ने यादव समुदाय का वोट बीजेपी को ट्रांसफर कराया. जिसकी वजह से बीएसपी 10 सीटों पर सिमट कर रह गई
गौरतलब है कि चुनाव में जीत के बाद अखिलेश यादव पहली बार सोमवार को आजमगढ़ पहुंचे हैं. और वह पहले ही बीएसपी पर हार ठीकरा फोड़ सकते थे. इससे पहले ही मायावती ने एकतरफा गठबंधन की समाप्ति की घोषणा कर उनको झटका दे दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News