मोदी खुद को मां गंगे का बेटा बताते है लेकिन आज तक गंगा की गंदगी दूर नहीं कर पाए:भूपेश बघेल

अमेठी. आगामी लोकसभा चुनाव में अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए कांग्रेस एड़ी चोटी का जोर लगा रही है। इसलिए कांग्रेस का प्रचार व राहुल के लिए वोट अपील करने कभी इस क्षेत्र में पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी आती हैं, तो कभी पाटीदार नेता हार्दिक पटेल। शुक्रवार को जनपद में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मौजूद रहे। उन्होंने जगदीशपुर के बाजार शुकुल में जनसभा को संबोधित किया और लोगों से राहुल गांधी को वोट देने की अपील की। इस दौरान उन्होंने भाजपा सरकार पर कटाक्ष भी किया। भूपेश बघेल ने भाजपा पर धार्मिक भावनाओं के साथ खिलवाड़ करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि भाजपा कभी गंगा के नाम से, कभी गाय के नाम से तो कभी राष्ट्रवाद के नाम से वोट मांगती है। भारतीय जनता पार्टी के लोग गाय मांस बेच रहे हैं। गौशाला के नाम से पैसा भी लिए हैं। भाजपा की कथनी और करनी में बहुत अंतर है।

आजतक गंगा की गंदगी नहीं दूर कर पाए

भूपेश बघेल ने कहा कि पीएम मोदी गुजरात से चाय की दुकान की बात करते हैं लेकिन उन्होंने कभी कप प्लेट नहीं धोया। उन्होंने स्वच्छता मिशन की शुरुआत भी की और खुद को मां गंगे का बेटा बताया लेकिन आज तक गंगा की गंदगी दूर नहीं कर पाए। सभी को मोदी ने झाड़ू पकड़ाया लेकिन खुद विदेश घूमने चले गए। पीएम ने दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था लेकिन वह भी पूरा न हो सका। नोटबंदी में कितने लोग मारे गए। लेकिन इन सभी बातों का जवाब आजतक नहीं मिल पाया।

अमित शाह चुनाव जिताने की मशीन

छत्तीसगड़ मुख्यमंत्री ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को चुनाव जिताने की मशीन बताया और कहा कि यह मशीन छत्तीसगढ़ में खराब कर दी है। वहां रमन सिंह और अजीत जोगी चुनाव लड़ रहे थे। वहां की जनता पार्टी ने दोनों को निपटा दिया। अब योगी और मोदी की बारी है। देश में तीन चरण के चुनाव हो चुके हैं और भारतीय जनता पार्टी बहुत पीछे है। बघेल ने दावा किया कि आने वाले समय में यूपीए की सरकार बनेगी।

बार-बार आचार संहिता का उल्लंघन कर रहे पीएम मोदी

भूपेश बघेल ने पीएम मोदी पर बार-बार आचार संहिता का उल्लंघन करने का भी आरोप लगाया। बघेल ने कहा कि इतनी शिकायतें हुई है जिसकी कोई सीमा नहीं है। भारतीय जनता पार्टी अपने प्रत्याशी के नाम से वोट नहीं मांगती। वह नरेंद्र मोदी के नाम पर वोट मांग रहे हैं और नरेंद्र मोदी सेना के नाम से वोट मांगते हैं।

भूपेश बघेल ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पर भी निशाना साधा। उन्होंने पूछा कि स्मृति के सर्टिफिकेट का क्या हुआ। जनता को यह बताना चाहिए कि ऐसी क्या खासियत है, जो चुनाव आते है ही उनकी डिग्री बदल जाती है। 2014 में अमेठी की जनता ने उनको नकारा था। इस बार भी वे बुरी तरह से परास्त होंगी। वहीं उनते जूते वाले बयान को उन्होंन भाजपा का नजरिया बताया। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि घर आए मेहमान को कपड़े, फूल गुलदस्ता दिया जाता है लेकिन भाजपा वाले जूता देते हैं। प्रधानमंत्री और उनके नेता बार-बार आचार संहिता का उल्लंघन करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News