पूण्यप्रसून बाजपेयी को नहीं झेल पाया सूर्या समाचार, 31 मार्च को विदाई तय जानिए क्यों?

तेवरदार पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपेयी की ताप सह न सका प्रिया गोल्ड बिस्किट कम्पनी चलाने वाला सूर्या समाचार का मालिक बीपी अग्रवाल : एक बड़ी खबर सूर्या समाचार न्यूज चैनल से आ रही है। सत्ता के दबावों के आगे सूर्या समाचार चैनल के मालिक नतमस्तक होते हुए हाल में ही ज्वाइन कराई गई पुण्य प्रसून बाजपेयी और उनकी टीम को मीडिया कम्पनी से बाहर करने पर राजी हो गए हैं।

इस बाबत सूर्या समाचार चैनल के एचआर की तरफ से पुण्य प्रसून बाजपेयी और उनकी टीम के लोगों को सर्विस से 31 मार्च तक मुक्त किए जाने का लेटर जारी कर दिया गया है। लेटर की एक कॉपी भी है जिसे यहां अपलोड किया जा रहा है।

सूत्रों ने बताया कि पुण्य प्रसून और उनकी टीम की धारदार व पोलखोल पत्रकारिता केंद्रीय सरकार व भारतीय जनता पार्टी में पदस्थ शीर्षस्थ लोगों को पसन्द नहीं आयी। नतीजतन बिस्किट कम्पनी चलाने वाले सूर्या समाचार के मालिक बीपी अग्रवाल पर जमकर दबाव बनाया गया। इन बिस्किट कम्पनी के मालिकों की हालत ऐसी हो गयी कि उन्हें दो में से एक विकल्प चुनने के लिए मजबूर होना पड़ा। पहला विकल्प था तमाम जांच एजेंसियों का सामना करते हुए अपनी काली कमाई से हाथ धो बैठना। दूसरा विकल्प था केंद्रीय सत्ता की ताक़त के आगे झुक कर उनके कहे को मान लेना।

बिस्किट कम्पनी चलाने वाले बीपी अग्रवाल ने बेहद दबाव और तनाव में पुण्य प्रसून एंड टीम को रुखसत करने का फैसला ले लिया। 31 मार्च आखिरी दिन है। सबको सारे ऑफिसियल सामान जमा करने को कहा गया है। अब सवाल ये है कि क्या पुण्य प्रसून को 31 मार्च तक भी सूर्या समाचार चैनल पर अपने मन की पत्रकारिता करने दिया जाएगा या एबीपी न्यूज़ की तरह सिग्नल काटने/रोकने का खेल शुरू हो जाएगा?

हालांकि मीडिया जगत के लोंगों ने पुण्य प्रसून के ज्वाइन करते समय ही ये भविष्यवाणी कर दी गई थी कि बिस्किट किंग बीपी अग्रवाल देर तक पुण्य प्रसून के तेवर वाली पत्रकारिता को झेल न पाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News