फरार बाहुबली सोनू सिंह के खिलाफ है कोर्ट का गैर जमानती वारंट, मायावती ने बनाया प्रत्याशी

कानून व्यवस्था पर सवाल उठाने वाली बसपा सुप्रीमो मायावती ने ऐसे बाहुबली को टिकट देकर गठबंधन के संयुक्त प्रत्याशी पर दांव लगाया है, जिसके खिलाफ कोर्ट से गैर जमानती वारंट जारी हुआ है। बसपा ने बाहुबली चंद्रभद्र सिंह उर्फ सोनू सिंह को सुल्तानपुर संसदीय क्षेत्र से संयुक्त गठबंधन का उम्मीदवार नियुक्त किया है।

कोर्ट ने सोनू सिंह को किया था फरार घोषित

सूत्रों के मुताबिक, शहर के एक होटल में शनिवार को बाकायदा बसपा का कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित हुआ। इस दौरान बहुजन समाज पार्टी के सांसद त्रिभुवन दत्त ने मायावती का पत्र सम्मेलन के दौरान सुनाया। उन्होंने कहा कि बहन मायावती ने सुलतानपुर संसदीय क्षेत्र से चंद्रभद्र सिंह उर्फ सोनू सिंह को संयुक्त गठबंधन का उम्मीदवार नियुक्त किया है।

पूरे कार्यक्रम स्थल पर सोनू सिंह और मोनू सिंह के नारे लगे। इस दौरान सोनू सिंह ने हर संभव जिले का विकास करने का वादा किया। इस कार्यक्रम में सपा और बसपा के शीर्ष नेता शामिल हुए। जिले के पार्टी पदाधिकारी समेत एमएलसी शैलेंद्र प्रताप सिंह ने भी जीत की हुंकार भरी।

बता दें कि 5 फरवरी 2016 को ब्लॉक प्रमुख चुनाव में जिला पंचायत अध्यक्ष उषा सिंह ने सपा प्रत्याशी नीलम कोरी का समर्थन किया था। नामांकन के दिन वह अपने पति शिव कुमार सिंह के साथ नामांकन कराने पहुंचीं। यहां चंद्रभद्र व उनके भाई बाहुबली ब्लाक प्रमुख यशभद्र ने हंगामा किया। उषा सिंह का नामांकन नहीं होने दिया गया और कई गाड़ियों में तोड़फोड़ की।

जातिसूचक शब्द, अभद्र टिप्पणी पर दोनों भाइयों समेत 6 लोगों पर एससी-एसटी के अलावा अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया गया था। मामले में विचार के दौरान 23 अप्रैल को पेश होने के लिए चंद्रभद्र सिंह को कहा गया है। चंद्र भद्र सिंह को कोर्ट ने फरार घोषित करते हुए 23 अप्रैल को हर हाल में पुलिस के जरिए पेश होने का आदेश दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News