अपने ही पायलट को भारतीय पायलट समझकर पाकिस्‍तानियों ने पीट-पीटकर मार डाला!

इस्‍लामाबाद: विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान बस कुछ ही मिनटों बाद देश लौट रहे हैं. अभिनंदन ने पाकिस्‍तान एयरफोर्स के जेट एफ-16 को गिराया था. जिस एफ-16 को अभिनंदन ने गिराया उसे पाकिस्‍तान एयरफोर्स के पायलट विंग कमांडर शहजाद-उद-दिन उड़ा रहे थे. शहजाद की जान भी बच जाती, अगर उनके देशवासियों को उन पर थोड़ा तरस आ जाता. 27 फरवरी को कश्‍मीर में पाकिस्‍तान एयरफोर्स के जेट्स भारतीय एयरस्‍पेस का उल्‍लंघन करके राजौरी के नौशेरा तक आए गए थे. इस घटना में भारत और पाकिस्‍तान के एयर मार्शल रहे दो एयरफोर्स के ऑफिसर्स के बेटे आमने-सामने थे. विंग कमांडर शहजाद का पैराशूट उनके ही देश की सीमा में गिरा था लेकिन उनके देशवासियों को लगा कि वह एक भारतीय पायलट हैं और उन्‍होंने विंग कमांडर शहजाद को पीट-पीटकर मार डाला.

शहजाद भी एयर मार्शल के बेटे-
विंग कमांडर अभिनंदन की ही तरह शहजाद भी एयर मार्शल वसीम-उद-दिन के बेटे थे. शहजाद पाकिस्‍तान एयरफोर्स की नंबर 19 स्‍क्‍वाड्रन के साथ थे जिसके पास एफ-16 हैं। शहजाज के एफ-16 को विंग कमांडर अभिनंदन ने गिराया था. विंग कमांडर अभिनंदन भी पीओके में ही गिर गए थे और उन्‍हें पाकिस्‍तान की सेना ने पकड़ लिया था. दोनों ही एक साथ आसमान से गिरे थे लेकिन एक की जान बच गई और एक को उनके ही देश के लोगों ने मार डाला.

अस्‍पताल में हुई मौत-
जो बात सबसे ज्‍यादा यहां पर चौंकाने वाली है वह है कि विंग कमांडर शहजाद पाकिस्‍तान के हिस्‍से वाले कश्‍मीर में गिरे थे लेकिन इसके बाद भी उनकी जान नहीं बच सकी. सूत्रों की मानें तो उन्‍हें बहुत बेदर्दी से लोगों ने पीटा. भीड़ को लगा कि वह एक भारतीय सैनिक हैं और इस गफलत में उनके साथ बुरा बर्ताव किया गया. जब तक लोगों को समझ में आता कि वह उनके ही देश के पायलट हैं, तब तक बहुत देर हो चुकी थी. उन्‍हें अस्‍पताल ले जाया गया. इसके बाद भी उनकी जान नहीं बच सकी और उन्‍होंने दम तोड़ दिया.

शहादत को मानने से सरकार का इनकार-
पाकिस्‍तान की सरकार भी उनकी पहचान सामने नहीं लाने से बच रही है. विशेषज्ञों की मानें तो पाक सरकार को इस बात का डर है कि अगर उन्‍होंने ऐसा किया तो फिर पूरी दुनिया को पता लग जाएगा कि एफ-16 का प्रयोग गलत तरीके से हो रहा है. पाक को एफ-16 आतंकवाद विरोधी अभियान के लिए दिए गए थे. पाकिस्‍तान में हुई इस घटना की सोशल मीडिया पर खासी चर्चा हो रही है.

पहले आई थी दो भारतीय पायलटों की खबरें-
27 फरवरी को जब यह घटना हुई थी तो उस समय खबरें आई थीं कि इंडियन एयरफोर्स के दो पायलट पाकिस्‍तान वाले कश्‍मीर में लैंड कर गए हैं. पाक की ओर से भी कहा गया कि एक पायलट का अस्‍पताल में इलाज चल रहा है और एक सेना के पास है. वहीं शाम होते-होते पाक सरकार यह कहने पर मजबूर हो गई थी कि उसने इंडियन एयरफोर्स के सिर्फ एक पायलट को पकड़ा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News