छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव परिणाम 2018 : इस्तीफा देकर रमन सिंह ने किया जनता को नमन

छत्तीसगढ़ : छत्तीसगढ़ की सियासत के लिए आज का दिन काफी महत्वपूर्ण है. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh Election Result ) विधानसभा के लिए 12 और 20 नवंबर को दो चरणों में मतदान कराया गया, जिसके नतीजे आने शुरू हो गए हैं. शुुरुआती रुझानों में कांग्रेस ने दो-तिहाई बहुमत हासिल कर लिया है और जादुई 45 के आंकड़े को पार करने के अलावा बड़ी जीत की ओर जाती दिख रही है. चुनावी नतीजे सबसे पहले और सबसे तेज aajtak.in पर उपलब्ध रहेंगे.

छत्तीसगढ़ के अब तक के रुझानों में कांग्रेस दो-तिहाई बहुमत से भी आगे जाती दिख रही है. हालांकि 90 सीटों के रुझान में बीजेपी की सीट लगातार घटती जा रही हैं. अब फिलहाल वह 18 सीटों पर आगे चल रही है, जबकि कांग्रेस 63 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है. वहीं, अन्य 9 सीटों पर आगे चल रहे हैं

15 साल तक सत्ता में रहे मुख्यमंत्री रमन सिंह ने अपनी पार्टी की हार को देखते हुए इस्तीफा राज्यपाल को भेज दिया है. उन्होंने कहा कि यह चुनाव मेरे नेतृत्व में लड़ा गया था और अब इस हार के लिए अपनी जिम्मेदारी लेता हूं. लोगों के हित के लिए हम काम करते रहेंगे.
राजनांदगांव विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के प्रत्याशी करुणा शुक्ला से 1 हजार वोटों से पीछे चलने के बाद फिर से बढ़त बना ली है और 6,763 मतों से आगे चल रहे हैं. करुणा अटल बिहारी वाजपेयी की भतीजी हैं और रमन सिंह को कड़ी टक्कर दे रही हैं.
छत्तीसगढ़ में रमन सिंह सरकार के 2 मंत्री पीछे चल रहे हैं. शिक्षा मंत्री केदार कश्यप 6,124 वोटों से पीछे चल रहे हैं. वहीं आबकारी मंत्री अमर अग्रवाल भी अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी से 5,215 वोटों से पीछे हैं. राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अजित जोगी भी अपने चुनाव क्षेत्र मरवाही में 30, 692 वोटों से आगे चल रहे हैं. यहां से जनता कांग्रेस (छत्तीसगढ़) आगे है और बीजेपी दूसरे नंबर पर है.
छत्तीसगढ़ विधानसभा की 90 विधानसभा सीटों पर 76.3 फीसदी मतदान हुए हैं. कांग्रेस और बीजेपी के बीच सीधी टक्कर है. परिणाम के बाद यह भी तय हो जाएगा कि अजीत जोगी की पार्टी बसपा से मिलकर किंगमेकर बन पाई या नहीं.
छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के लिए पहले चरण में 12 नवंबर को नक्सल प्रभावित 18 विधानसभा सीटों पर और दूसरे चरण में 20 नवंबर को 72 सीटों पर वोटिंग हुई. कांग्रेस-बीजेपी दोनों दलों के लिए ये चुनाव करो-मरो की तरह हैं.
बता दें कि बीजेपी के रमन सिंह लगातार 3 बार से यहां मुख्यमंत्री हैं. 2013 के चुनाव में बीजेपी को 49 सीटें मिली थीं, वहीं प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस को 41 सीटों से संतोष करना पड़ा था. हालांकि दोनों पार्टियों के बीच 1 फीसदी से कम वोट शेयर का अंतर था

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News