पुलवामा हमले के बाद अलगावादी नेता यासीन मलिक हिरासत में

श्रीनगर: पुलवामा हमले के बाद जम्मू कश्मीर में अलगाववादियों पर व्यापक कार्रवाई के संकेतों के बीच शुक्रवार रात जेकेएलएफ प्रमुख यासीन मलिक को गिरफ्तार किया गया है। अधिकारियों ने बताया कि पुलिस एवं अर्द्धसैनिक बलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

अद्र्धसैनिक बलों को हाई अलर्ट पर रखा गया
अधिकारियों ने बताया कि पुलिस एवं अद्र्धसैनिक बलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। हालांकि अभी किसी और के हिरासत में लिए जाने की पुष्टि नहीं की गई है। पुलवामा जिले में सीआरपीएफ के काफिले पर भीषण आतंकवादी हमले के आठ दिन बाद यह कार्रवाई सामने आई है। इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे।

PunjabKesari

पुलवामा आतंकी हमले के बाद अलगाववादियों की सुरक्षा हटा ली गई थी
आपको बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले के तुरंत बाद पांच अलगाववादियों की सुरक्षा हटा ली गई थी। इसमें मीर वाइज उमर फारुक और शब्बीर शाह का नाम प्रमुथ था। केंद्र सरकार के साथ साथ जम्मू- कश्मीर के राज्यपाल ने साफ कर दिया था कि इस विषय में पहले से विचार मंथन जारी था। लेकिन धरातल पर इसे उतारने के लिए सही समय आ गया। अलगाववादी नेताओं से सुरक्षा हटाए जाने के बाद कुछ ने कहा कि उन्होंने सुरक्षा की कभी मांग ही नहीं की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News