कांग्रेस का डबल गेम, समर्थन और जांच की मांग एकसाथ

  • ममता बनाम सीबीआई पर कांग्रेस की केंद्रीय और राज्य इकाई में अलग राय
  • राज्य कांग्रेस मुखिया सोमेन मित्रा बोले-बीजेपी और टीएमसी के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी
  • प्रदेश कांग्रेस ने ऐलान किया है कि 6 फरवरी को वह घोटालों की जांच की मांग के लिए प्रदर्शन करेगी

कोलकाता
पश्चिम बंगाल में सारदा चिट फंड घोटाले को लेकर सीबीआई और पुलिस के बीच हुए टकराव के बाद से हाई वोल्टेड ‘ड्रामा’ जारी है। तृणमूल कांग्रेस(टीएमसी) की मुखिया और बंगाल की सीएम ममता बनर्जी अनिश्चितकालीन धरने पर बैठी हैं और देशभर की कई पार्टियां उनके समर्थन में आ गई हैं। इस मामले पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ममता बनर्जी से फोन पर बात की थी और उनका समर्थन किया था। दूसरी तरफ सभी चिट फंड घोटालों में जांच के अंतिम निर्णय की मांग कर रही कांग्रेस की प्रदेश इकाई ने 6 फरवरी को प्रदर्शन का ऐलान कर दिया है।
कांग्रेस की बंगाल इकाई सारदा चिटफंड घोटाला, रोज वैली घोटाला और अन्य सभी चिट फंड घोटालों के जांच में अंतिम निर्णय की मांग कर रही है। इन घोटालों की मांग को लेकर प्रदेश कांग्रेस 6 फरवरी को एक रैली करने जा रही है, जिसमें इन सभी मामलों के साथ-साथ नारदा केस की भी जांच करके आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की जाएगी। बता दें कि नारदा केस में टीएमसी के कई बड़े नेता आरोपी हैं।

प्रदेश कांग्रेस प्रमुख ने पुलिस कमिश्नर से पूछे सवाल

पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व से अलग राय व्यक्त करते हुए प्रदेश कांग्रेस प्रमुख सोमेन मित्रा ने सवाल किया कि कोलकाता पुलिस कमिश्नर सीबीआई की पूछताछ से बच क्यों रहे हैं? मित्रा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘अगर वह (राजीव कुमार) गलत नहीं हैं तो वह सीबीआई से बच क्यों रहे हैं?’ सोमेन मित्रा ने यह भी कहा कि कांग्रेस की लड़ाई बीजेपी और टीएमसी से जारी रहेगी। इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ममता बनर्जी को फोन करने के अलावा ट्वीट भी किया था। राहुल ने लिखा, ‘पूरा विपक्ष एकजुट है और यह फासीवादी ताकतों को हराएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News