लखनऊ में प्रतापगढ़ के कुण्डा से निर्दलीय विधायक राजा भइया की रैली 30 को

0

लखनऊ। पच्चीस वर्ष से लगातार एक ही सीट प्रतापगढ़ के कुण्डा से निर्दलीय विधायक रहकर रिकार्ड बनाने वाले रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भइया रैली कर अपनी राजनीतिक ताकत दिखायेंगे। यह रैली लखनऊ के रमाबाई आम्बेडकर मैदान में आगामी शुक्रवार को होगी। राजा भइया ने बताया कि एक ही सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में लगातार विधायक चुने जाने के कारण उनके समर्थक उनका सम्मान करना चाहते थे, नई पार्टी भी बनाई गयी है। इसीलिये सम्मान समारोह को रैली में बदल दिया गया है ताकि, सभी को पार्टी से भी परिचित कराया जा सके। रैली में नवगठित पार्टी के उद्देश्यों को बताया जायेगा। रैली में आरक्षण नीति की समीक्षा करने की मांग उठायी जा सकती है।राजा भइया ने कहा कि यह कौन सा न्याय है कि आरक्षण का लाभ ले चुके आईएएस,आईपीएस जैसे वरिष्ठ अधिकारियों के बच्चों को भी इसका फायदा मिले। संविधान में संशोधन होना चाहिये। आरक्षण का लाभ लेकर वरिष्ठ पद पा चुके लोगों के बच्चों को इसका फायदा नहीं मिलना चाहिये। यह आरक्षण उसी वर्ग के दूसरे लोगों को मिलना चाहिये ताकि दूसरे परिवार को भी इसका लाभ मिल सके। इसके साथ ही उन्होंने प्रमोशन में आरक्षण दिये जाने को भी गलत ठहराया।राजा भइया ने कहा कि दलित उत्पीड़न अधिनियम का दुरुपयोग किया जा रहा है। सरकार दलितों के लिये अलग प्रावधान कर समाज से उन्हें काट रही है। उनका कहना था कि दलितों की बच्चियों का बलात्कार या दलितों की हत्या होने पर उन्हें नगद रुपये दिये जाते हैं, ऐसा ही प्रावधान अन्य वर्ग के लिये क्यों नहीं किया जाताउन्होंने कहा कि दलितों के सबसे बड़े आदर्श डॉ. भीमराव आम्बेडकर संविधान के निर्माता हैं, यदि उन्हें दलितों के सम्बन्ध में ऐसे कानून बनाने की जरूरत महसूस होती तो क्या वह चूकते। उन्होंने कहा कि डॉ. अम्बेडकर ने दलितों के हित में संविधान में जायज व्यवस्था की थी, लेकिन बाद में वोट के लालच में उसमें संसोधन कर अन्य कानून भी लागू करवा दिये गये। रैली में लाेकसभा चुनाव लड़ने सहित विभिन्न मुद्दों पर रणनीति बनाई जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News