अयोध्या : जिले के सभी गांवों में 3 फरवरी तक विकास कार्य रहेंगे ठप,सचिव के पिटाई से लिया गया निर्णय

0

डीएम से मिलकर प्रधान पति की गिरफ्तारी की मांग।कार्यवाही ना होने पर ठप्प होंगे ग्रामों के विकास कार्य।

अयोध्या ! जिले में ग्राम प्रधान प्रधान प्रतिनिधियों के बेजा दबाव और उत्पीड़न से जिले के 11 विकास खंडों के सचिवों ने एकजुट होकर विकास भवन में नारेबाजी करते हुए मवई विकासखंड के सचिव की प्रधान प्रतिनिधि द्वारा पिटाई करने के विरोध में जबरदस्त धरना दिया।
जिला अधिकारी नीतीश कुमार से सचिव के प्रतिनिधि मंडल ने मिलकर मवई विकासखंड के प्रधान प्रतिनिधि ग्राम सिपहिया कोटवा के योगराज यादव द्वारा सचिव की पिटाई मामले में दर्ज एफआईआर के अंतर्गत गिरफ्तारी के साथ पंचायत अधिनियम के अंतर्गत प्रधान के अधिकार सीज करने की मांग की है। जिस पर डीएम ने 3 फरवरी तक कार्रवाई का आश्वासन दिया है। और निर्देश दिया कि प्रधान प्रतिनिधियों को अब विकास खंड कार्यालय में साधारण जनता की तरह ही जाना होगा।अब उनकी एंट्री प्रधान प्रतिनिधि के रूप में नहीं हो सकेगी।मवई के सचिव विजय कुमार की प्रधान प्रतिनिधि द्वारा अपने सहयोगियों के साथ विकास खंड कार्यालय पर जाकर पिटाई से पूरे जिले के सचिवों में आक्रोश व्याप्त है। प्रतिनिधिमंडल के प्रशासन द्वारा दिया गया आश्वासन पूरा ना होने पर जिले के ग्रामों के सारे विकास कार्यों को आगामी 3 फरवरी के बाद ठप्प करने की बात प्रतिनिधिमंडल ने दोहराई है। मंडल के सदस्य पंकज मिश्रा अध्यक्ष ग्राम विकास अधिकारी संघ, नसीम खान अध्यक्ष ग्राम पंचायत अधिकारी संघ, वैभव पांडे, रबी सिंह अनिल दूबे आदि के साथ 11 ब्लॉकों के सचिव ग्राम विकास अधिकारी एवं ग्राम पंचायत अधिकारी सुनील कुमार अर्चना शर्मा सौरभ सिंह अजय यादव विशाल गौतम राहुल पांडे विजय गुप्ता सूरत सिंह रवि सिंह राजेंद्र पांडे सौरभ गुप्ता स्नेह लता अर्जुन कुमार कार्तिकेय पांडे आदि भारी संख्या में उपस्थित रहे इस मामले का जल्द ही हल नहीं निकाला गया तो जिले के ग्रामों के विकास कार्य जहां प्रभावित होंगे वही मार्च के सापेक्ष जिले को मिले लक्ष्य की पूर्ति में बाधा खड़ी हो सकती है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News