चंदौली: दोस्त को मारकर घर में गाड़ दिया, फिर मांगी 20 लाख की फिरौती


आपने अजय देवगन अभिनीत दृश्यम फिल्म जरूर देखी होगी, जिसमें हीरो हत्या करने के बाद खुद को और परिवार को बचने के लिए एक कुचक्र रचता है. कुछ ऐसा ही मामला सदर कोतवाली क्षेत्र में सामने आया है. यहां बिछियां गांव निवासी किशोर सिद्धार्थ उर्फ वीरु की 2 दिन पूर्व अपहरण (Kidnapping) की सूचना के बाद शुक्रवार की रात उसका शव मिला है. पुलिस की माने तो सिद्धार्थ की हत्या (Murder) उसी के जिगरी दोस्त अमित ने अपने भाई के साथ मिलकर कर दी और शव (Deadbody) को अपने ही अहाते में गड्डा खोदकर गाड़ दिया.

गुमराह करने के लिए अपहरण की कहानी रची
यही नहीं शव जल्द डिकम्पोज हो जाए इसके लिए शव गाड़ने के साथ ही उसके ऊपर नमक डाल दिया.

खुद को बचाने और पुलिस को गुमराह करने के लिए आरोपियों ने इसे अपहरण का रूप दे दिया. पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

दोस्त ही निकला कातिलदरअसल मंगलवार की शाम सिद्धार्थ घर से अचानक गायब हुआ. दो दिन बाद पुलिस को सूचना मिली कि घरवालों से 20 लाख को फिरौती की मांग की जा रही है. जिसके बाद पुलिस अपहरण का मुकदमा दर्ज कर तफ्तीश मे जुट गई. सदर कोतवाली पुलिस मामले के सभी पहलुओं पर गंभीरता से नजर बनाए हुए रखी थी. पुलिस जांच में यह बात सामने आई कि अपहृत किशोर सिद्धार्थ जायसवाल की हत्या उसी के दोस्त अमित ने अपने भाई के साथ मिलकर की है.

शराब पीने के दौरान हुआ विवाद और कर दी हत्या

पूछताछ में युवक ने बताया की मंगलवार को अमित का बड़ा भाई कन्हैया शराब पी रहा था. अमित और सिद्धार्थ भी वहीं पर थे. अमित ने सिद्धार्थ को सिगरेट लाने को कहा तो उसने मना कर दिया. इस बात को लेकर दोनों में कहासुनी फिर झगड़ा होने लगा. इसी विवाद और गुस्से में दोनों भाइयों ने सिद्धार्थ की गला रेतकर हत्या कर दी और अपने ही घर के अहाते में शव को गाड़ दिया. इस हाथापाई के दौरान सिद्धार्थ ने अमित को सीने पर अपने दांत से काटा भी था.

दो दिन बाद मांगी 20 लाख की फिरौती

यही नहीं इसके बाद इन दोनों भाइयों ने एक शातिर अपराधी की तरह अपहरण की साजिश रच डाली. आरोपितों ने 2 दिन बाद मृतक का मोबाइल ऑन किया और उसके भाई को फोन कर 20 लाख रुपये फिरौती की मांग की वरना जान से मार देने की बात कही.

अब पुलिस ने अपहरण के फर्जी मामले का पटाक्षेप करते हुए हत्या का खुलासा कर दिया है. शव आरोपी युवक के घर से बरामद किया गया. पुलिस के अनुसार हत्यारों ने बताया कि शराब पीने के बाद सिगरेट लाने को लेकर के विवाद हुआ था, जिसके बाद बहस के दौरान बात आगे बढ़ गई और दोनों लोगों ने मिलकर सिद्धार्थ की हत्या कर दी. मुख्य आरोपी युवक अमित बीटीसी का छात्र है. जबकि पिता सरकारी कर्मचारी है. अमित के पर साइबर क्राइम अपराध का मामला भी दर्ज है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News