अयोध्या :मृतक के मोबाइल से आया था मैसेज”मुझे बचा लो,मेरी जान को है खतरा-महबूब हत्याकांड

पटरंगा(अयोध्या) ! पटरंगा थाने का चर्चित पचलो गांव का महबूब हत्याकांड में सोमवार की सुबह मृतक की मोबाइल से परिजनों को एक मैसेज मिला था।परिजनों के मुताविक महबूब हसन के मोबाइल से मैसेज आया था कि “मेरी जान को खतरा है मुझे बचा लो ,सात आठ लोग मुझे गाड़ी से लखनऊ लाए है और कमरे में बंद किए है” यह मैसेज देख परिजनों के होश उड़ गए और आनन फानन इसकी जानकारी पटरंगा एसओ संतोष कुमार सिंह को दी थी।परिजनों की सूचना पर पुलिस सक्रिय हुई और लापता युवक के मोबाइल नंबर को ट्रेस कर उसका लोकेशन तलाशने में जुट गई।लेकिन पुलिस के हाथ कोई खास सुराग नही लगा।दूसरी ओर परिजन लगातार किसी अनहोनी की आशंका व्यक्त करते हुए परेसान रहे।और बुधवार को वही हुआ लापता युवक की गला रेती लाश शारदा सहायक नहर से बरामद हुई।अब पुलिस सहित परिजनों के जहन में कई सवाल उठ रहे है।

लाश निकालने में जब सिपाही हिचकिचाए तो एसआई ने दिखाई हिम्मत

नहर में फंसी दुर्घन्ध युक्त लापता महबूब की लाश को निकालने के लिए जब वहां मौजूद सिपाही हिचकिचाने लगे तो वहां मौजूद एसआई अमरनाथ यादव ने दिलेरी दिखाते हुए तुरंत ट्यूब के सहारे नहर के पानी मे कूद गए।और रस्सी के सहारे लाश को खींचकर बाहर लाए।बाहर निकालते ही लाश से निकली दुर्गंध से कई लोग उल्टी करने लगे।दुर्घन्ध सह न पाने से लोगों की भारी भीड़ वहां से भागती नजर आई।एसआई अमरनाथ यादव ने कहा कि आखिर मृतक भी इंसान ही था।और हमें इंसान से घृणा नही करनी चाहिए।एसआई के दिलेरी की वहां मौजूद ग्रामीणों ने भी खूब सराहना की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News