अयोध्या: मिल्कीपुर का क्वारेंटाइन सेंटर में चली शराब-मुर्गे की दावत

अयोध्या. एक तरफ वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण से बचाव के लिए सरकार व पूरी प्रशासनिक मशीनरी शिद्दत से लगी हुई है. देशव्यापी लॉकडाउन (Lockdown) है. संदिग्धों को क्वारेंटाइन किया जा रहा है. लेकिन कुछ ऐसी भी घटनाएं सामने आ रही हैं जिन्हें जानकर हैरत होती है. ऐसा ही एक मामला अयोध्या जनपद में बनाए गए क्वारेंटाइन सेंटर का सामने आया है. जहां इस विकट समय में भी मुर्गे और शराब की पार्टी चल रही थी.

मामले का खुलासा तब हुआ, जब शराब का नशा चढ़ा और इन लोगों में लड़ाई-झगड़ा शुरू हुआ. क्वारेंटाइन सेंटर पर हंगामे की सूचना के बाद पहुंची पुलिस भी ये देख कर हैरान रह गई कि वहां ग्राम प्रधान व उसका बेटा मुर्गे व शराब की पार्टी करा रहा था. डीएम अयोध्या ने मामले की जांच कर दोषियों पर FIR के आदेश दिए हैं.

पूरा वाकया कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए अयोध्या के क्वारेंटाइन सेंटर का है. मामले में जिलाधिकारी अनुज झा ने जांच के आदेश दिए हैं. बता दें कि मिल्कीपुर तहसील के चौधरीपुर ग्राम पंचायत के सरकारी विद्यालय में क्वॉरेंटाइन किए गए लोगों के शराब पीने के बाद हुई मारपीट के बाद शराब-मुर्गा पार्टी का खुलासा हुआ है. प्रथम दृष्टया जांच में क्वारेंटाइन किए गए लोगों को प्रधान व उनके पुत्रों द्वारा शराब व मुर्गे की दावत देने की पुष्टि हुई है. पुलिस का कहना है कि सभी दोषियों पर प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए जिला अधिकारी को रिपोर्ट भेजी जा रही है. जानकारी के मुताबिक चौधरीपुर पूर्व माध्यमिक विद्यालय में क्वारेंटाइन सेंटर में विवाद हो गया था. आरोप है कि क्वारेंटाइन किए गए कुछ चहेते लोगों को प्रधान अमरनाथ यादव उनके पुत्र जितेंद्र, धर्मेंद्र द्वारा शराब व मुर्गा की पार्टी दी गई थी. शराब पीने के बाद लोगों ने आपस में जमकर मारपीट की थी.

मिल्कीपुर तहसील के सरकारी विद्यालय में बनाए गए क्वॉरेंटाइन सेंटर में शराब व मुर्गे की दावत

चौकीदार की सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह मामला शांत कराया था. इस पूरे घटनाक्रम का संज्ञान डीएम अनुज कुमार झा ने लेते हुए एसडीएम मिल्कीपुर को जांच कर अविलम्ब रिपोर्ट देने के लिए कहा है. रिपोर्ट के मुताबिक क्वारेंटाइन किए गए लोगों के बयान के आधार पर यह सामने आया कि प्रधान द्वारा शराब व मुर्गा खिलाया गया था. वहां मौजूद एक शख्स के मुताबिक ग्राम प्रधान व उनके बेटे द्वारा बाहर से इंग्लिश व कच्ची शराब लाई गई थी जिसको उनके द्वारा अपने लोगों को पिलाया गया था. यही नहीं बाहर से मुर्गा भी बनकर आया था जो यहां खाने में परोसा गया. क्वारेंटाइन हुए लोगों का कहना है कि हंगामे की सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने उन लोगों की खूब पिटाई भी की जिसमें दो लोगों को ज्यादा चोट आई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News