अयोध्या : एक ही दिन उठी पिता और पुत्र की अर्थी,ग्रामीणों की डबडबा गई आंखे

अयोध्या ! पिता की चिता की राख अभी ठंडी भी नही हुई थी।कि पिता की मौत के सदमे में आकर उसी दिन पुत्र की भी मौत हो गई।एक ही दिन दो लोगों की मौत से घर में कोहराम मच गया। पिता पुत्र की अर्थी एक ही दिन उठने की खबर ने पूरे इलाके को झकझोर कर रख दिया।
मवई थाना क्षेत्र के ग्राम भनियापुर मजरे भटमऊ नारायनपुर निवासी बाल कृष्ण सिंह (75) की मौत अचानक मंगलवार को हो गई। जिनका अंतिम संस्कार परिजनों द्वारा किया गया।लोग पिता का अंतिम संस्कार करके घर लौटे ही थे।कि कुछ देर बाद पुत्र के मरने की खबर आ गई। ग्रामीणों के मुताबिक मृतक के पुत्र धर्मेंद्र प्रताप सिंह (45) की तबियत कई दिनों से खराब चल रही थी।वह लखनऊ के एक अस्पताल में अपना इलाज करा रहे थे।बताते हैं कि पिता की मौत की खबर उन्हें मिली तो वह यह सदमा बर्दाश्त नहीं कर सके और पिता की मौत के गम में उनकी भी मौत हो गई।धर्मेंद्र प्रताप सिंह गांव के कोटेदार व् भाजपा के युवा कर्मठ नेता भी थे।पिता पुत्र की असामयिक मौत की खबर सुनकर भाजपा नेता महेंद्र पाण्डेय,आलोक सिंह,जितेंद्र तिवारी,ग्राम प्रधान पप्पू सिंह,प्रताप बहादुर सिंह,मान्धाता सिंह,महंत सच्चिदानन्द दास,भास्कर दास,अधिवक्ता राजेश शुक्ल,अनिल तिवारी,ओम प्रकाश पाण्डेय ने मृतक के घर पहुंचकर शोक संतृप्त परिवार को ढांढस बंधाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News