पुलिस चौकी में राइफल लेकर घुसा, दिखायी BJP नेता की धौंस तो दरोगा कपिल देव ने किया हवालात में बंद

चंदौली. योगीराज में पुलिस का इकबाल खतरे में है। यूपी के चंदौली में एक टॉप टेन लिस्टेड बकाएदार राइफल लेकर पुलिस चौकी पहुंच गया। वहां पुलिस की मौजूदगी में अपने चाचा को छोड़ने के लिये राजस्वकर्मियों को जान से मारने की धमकी देता रहा। इस बीच वह एक बड़े बीजेपी नेता से बात कराने की जिद पर भी अड़ा रहा। वह लगातार कहता रहा कि चाचा को छोड़ दीजिये वर्ना परिणाम बहुत बुरा होगा। पुलिस के बार-बार समझाने पर भी वह मानने को तैयार नहीं था और ऑन ड्यूटी कर्मचारी को लगातार धमकाता रहा। जब वह नहीं माना तो चौकी इंचार्ज दरोगा कपिलदेव यादव ने सख्ती कर उसे पुलिस और कानून की ताकत का एहसास करा दिया। उसे उठाकर बंद कर दिया तो खुद को दबंग समझ रहा उसका साथी तुरंत वहां से दुम दबाकर भाग खड़ा हुआ।

डीएम की समीक्षा बैठक में कम राजस्व वसूली पर सभी तहसीलों के एसडीएम को 15 नवंबर से बकाएदारों के खिलाफ वसूली अभियान चलाने व टॉप टेन बकाएदारों की लिस्ट बनाकर उनके खिलाफ कार्यवाही का निर्देश दिया था। इसी क्रम में राजस्वकर्मी टॉप टेन लिस्ट के चंदौली के सबसे बड़े बकाएदार अजय सिंह के घर छापा मारा। वह फरार हो गया, तो एक अन्य मामले में बकाएदार उसके चाचा राजेश सिंह को हिरासत में लेकर कंदवा थानाक्षेत्र की रामपुर पुलिस चौकी पहुंचे।

यह बात जब अजय सिंह को पता चली तो अपनी लाइसेंसी राइफल लेकर एक आदमी के साथ अजय सिंह पुलिस चौकी पहुंच गया। वहां पुलिस की मौजूदगी में राजस्व कर्मियों से गाली-गलौज की और चाचा को छोड़ने का दबाव बनाने लगा। इतना ही नहीं वह पुलिस को एक बीजेपी नेता से बात अपने चाचा को छोडने की जिद पर अड़ गया। जब वह नहीं माना तो चौकी इंचार्ज कपिल देव यादव ने उसे कानून और पुलिस की ताकत का एहसास कराया और उठाकर बंद कर दिया।

घटना संज्ञान में आते ही एसडीएम थाने पर पहुंचे और उनके निर्देश के आरोपी अजय सिंह के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया। पुलिस ने राइफल का लाइसेंस निरस्त करने के लिये भी डीएम को रिपोर्ट भेजी है। पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने कहा है कि जो भी कानून तोड़ेगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News