केरल बाढ़: सऊदी अरब के राजदूत ने कहा- 700 करोड़ रुपए की मदद का कोई आधिकारिक ऐलान नहीं किया

भाजपा ने मुख्यमंत्री विजयन से पूछा- यूएई से मदद की खबर आपको कहां से मिली

तिरुअनंतपुरम. सऊदी अरब (यूएई) ने बाढ़ पीड़ितों के लिए केरल सरकार को 700 करोड़ रुपए की मदद की खबरों को खारिज कर दिया। भारत में सऊदी अरब के राजदूत अहमद अलबन्ना ने शुक्रवार को एक इंटरव्यू में कहा कि उनकी सरकार ने अभी ऐसा कोई आधिकारिक ऐलान नहीं किया, जिसमें मदद की रकम का जिक्र हो। अलबन्ना के बयान पर भाजपा ने पिनरई विजयन पर निशाना साधा। पार्टी ने कहा कि मुख्यमंत्री स्पष्ट करें कि उन्हें यूएई से मदद मिलने की जानकारी कहां से मिली थी?

मुख्यमंत्री विजयन ने 21 अगस्त को ट्वीट किया, “सऊदी अरब का केरल से अलग ही रिश्ता है। वहां कि सरकार ने बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए 700 करोड़ रुपए देने की पेशकश की।” इसके बाद कांग्रेस ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार सऊदी समेत तीन देशों की मदद को स्वीकार नहीं किया। इस तरह मोदी सरकार ने केरल के साथ भेदभाव किया है। पूर्व मुख्यमंत्री ओमान चांडी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर विदेशी मदद को लेकर अपनी नीति बदलने के लिए भी कहा था। वहीं, केंद्र ने विदेशों से मिलने वाली आर्थिक मदद के बारे में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं होने का हवाला दिया था। नरेंद्र मोदी और राजनाथ सिंह के दौरे के बाद केंद्र सरकार ने केरल को 600 करोड़ का राहत पैकेज दिया।

मदद सही हाथों में पहुंचाने के लिए कमेटी बनाई: यूएई के राजदूत ने बताया कि उनकी सरकार ने कुछ दिन पहले केरल को मदद देने की बात कही थी। केरल में नुकसान का आंकलन किया जा रहा है। मदद सही हाथों में पहुंचे इसके लिए कमेटी भी बनाई गई। जो भारत के विदेश मंत्रालय की मदद से काम करेगी। दोनों देशों के बीच इसे लेकर बातचीत भी चल रही है। केरल में 8 से 18 अगस्त तक 13 जिलों में बाढ़ से भारी तबाही हुई। करीब 231 लोगों की मौत हुई, 14 लाख से ज्यादा राहत शिविरों में मौजूद हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News