अयोध्या:रूदौली-एसडीएम के द्वारा एक गाटा सO पर दोनों पक्षो के पक्ष में किया गया आदेश नौबत सर फुटौअल की

रूदौली।जहां एक ओर योगी सरकार लोंगो की समस्या का त्वरित निस्तारण के लिये कटिबद्ध नजर आ रही है वही पुलिस और राजस्व विभाग के जिम्मेदारों की हीलाहवाली के चलते चकमार्ग पर बारिश में गिर गया पेड़ एक माह बीत जाने के बाद भी हटवाया नही जा सका है जिसके चलते जहाँ एक ओर रास्ता अवरुद्ध है वही दूसरी ओर पीड़ित की समस्या का समाधान नही हो पा रहा है।जबकि एसडीएम रूदौली का आदेश लेकर पीड़ित एक माह से थाने से लेकर तहसील तक का चक्कर काट रहा है।मामला रूदौली तहसील क्षेत्र के गोगावां गांव का है।

पीड़ित मो0 ओसी पुत्र मो0 शफ़ी का आरोप है कि वह ग्राम में स्थित गाटा संख्या 470 पर संक्रमणीय भूमिधर है।जिसमे बाग लगा रखा है।बताया कि अधिक बारिश होने के कारण यूकेलिप्टस का पेड़ चकमार्ग पर गिर गया।जिसकी वजह से खेतों में आवागमन का मार्ग अवरूद्ध हो गया है।आरोप है कि जब वह उस गिरे हुए पेड़ को उठाने के लिए गया तो गांव निवासी प्रमोद कुमार और उनकी पत्नी पेड़ हटाने नही दे रही और पेड़ पर अपना हक जता रही है।इस मामले की शिकायत 21 सितंबर को एसडीएम रूदौली से की गई जिसके बाद हल्का लेखपाल ने 29 सितंबर को मौके पर जाकर जांच पड़ताल किया और पेड़ को हटाए जाने के लिए एसडीएम को रिपोर्ट सौंपी गई।एसडीएम ने 1 अक्टूबर को तहसीलदार रूदौली को पुनः आख्या मांगी की पेड़ किसका है जिसकी दुबारा लेखपाल,कानून गो,तहसीलदार द्वारा 7 अक्टूबर को जांच आख्या दी गई दो बार की मैराथन जांच के बाद एसडीएम रुदौली ने एसएचओ/ राजस्व निरीक्षक को आदेशित किया कि आख्यानुसार आवेदक के पक्ष में पेड़ को उठवा दें जिसका अनुपालन खबर लिखे जाने तक नही हुआ इसी बीच दूसरे पक्ष ने दिनांक 25 अक्टूबर को एक प्रार्थना दिया जिसमें गाटा स0 470,471 जो अभिलेखों में नही दर्ज है लिख कर दे दिया जिस पर एस डीएम रुदौली ने बिना किसी जाँच के समझौते के आधार पर पेंड को काटने का अधिकार प्राथी को होता है लिखकर आदेश किया इसी प्रार्थना पत्र के आधार पर रुदौली कोतवाली पुलिस से मिल कर दूसरे पक्ष के लोग पेंड काटने पहुंचे तू तकरार हुई तो पुलिस पहुची और जो पुलिस जो 7 अक्टूबर को आदेश के आदेश को तामील नही करवा पाई अचानक एक्टिव हो गई और ओसी को कोतवाली उठा लाई और दूसरे पक्ष से बिना राजस्व विभाग के मौजूदगी के पेड कटवाने लगी इसी बीच ओसी जो दमे और ब्लड प्रेशर का मरीज था अचानक गश खाकर गिर पड़ा इसके बाद पुलिस के हाथ पैर फूल गए आनन फानन में भाग कर उसके घर से दवा लाई और पेड़ काट रहे रहे लोंगो को सतर्क कर भगा दिया मामला बहु चर्चित होने के बाद भी पुलिस और राजस्व विभाग द्वारा अब तक मामले को हल नही कर सकी है।पीड़ित का आरोप है वो पुलिस और तहसील के चक्कर काट काट परेशान हो अब जिलाधिकारी और कप्तान से गुहार लगा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News