अयोध्या : भूमि अधिग्रहण में मुवाबजे को लेकर पेंच बरकरार कैसे पूरा होगा 15 महीने में एयरपोर्ट का काम

मुवाबजे में असमानता को लेकर अपनी जमीन देने को राजी नही धर्मपुर गांव के किसान

श्री राम एयरपोर्ट के विस्तारीकरण को लेकर तीन गांवो की करीब 600 एकड़ जमीन की है जरूरत

अयोध्या ! श्री राम एटरपोर्ट के विस्तारीकरण को लेकर सरकार दावा कर रही है कि वो 15 महीने में इस कार्य को पूरा करेगी।लेकिन अभी तक एयरपोर्ट के विस्तार में प्रयोग होने वाली भूमि का विवाद ही नही सुलझा तो सरकार का दावा कैसे सफल होगा।
बताते चले कि श्री एयरपोर्ट के विस्तारीकरण में तीन गांव जनौरा नंदापुर व धर्मपुर का करीब 600 एकड़ भूमि अधिग्रहित की जानी है।जबकि अभी भी धर्मपुर गांव के किसान अपनी जमीन देने को राजी नही है।किसानों का आरोप है इस महान कार्य में हम बाधा नही बन रहे है।बल्कि सरकार के नुमाइंदे अयोध्या जिले के डीएम स्वयं नही चाहते कि ये कार्य आसानी से हो जाए।धर्मपुर गांव के श्रीनाथ प्रजापति सोमई प्रजापति राम इकबाल प्रजापति हीरालाल यादव चंद्रजीत यादव का आरोप है डीएम साहेब हमारी जमीन को औने पौने दाम में जबरन लेना चाहते है।जो सम्भव नही।वही किसान अशोक तिवारी रमाशंकर तिवारी राजनाथ तिवारी भगौती प्रसाद सूरज तिवारी रामलौट तिवारी का कहना है कि मुवाबजे में असमानता के कारण हम अपनी जमीन नही दे रहे है।हमारी मांग है कि प्रशासन समान कार्य पर समान मुवाबजे की बात करे जो हमे स्वीकार है।वही महिला किसान शीतला देवी गायत्री देवी का कहना है कि भैया ई एयरपोर्ट में जमीन को लेकर हर रोज गांव में अफसर आते है।एक महिला अफसर आती है तो वो सीधे धमकी देती है।मेरे समझ में नही आता आखिर सरकार इन पढ़े लिखे अफसरों को इतना तो समझा दे कि गरीब किसान से कैसे बात की जाती है।हम किसान लोग अपना खून पसीना जलाकर अनाज पैदा करते है।उसी अनाज को खाकर अफसर नेता सब जिंदा रहते है।अब उन्हें हमारी जमीन भी चाहिए और वो हमको मुवाबजा भी कम देंगी और धमकी भी देंगी।ये ठीक नही।हम तो अपनी जमीन नही ही देंगे।

8 लाख में दम नही 75 लाख से कम नही

एयरपोर्ट में अधिग्रहीत की जाने वाली जमीन में मुवाबजे को लेकर धर्मपुर गांव के युवा किसान भी आक्रोशित है।गांव के युवाओं से जब “हिंदुस्तान” ने संपर्क किया तो उन्होंने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि भैया किसी को 75 लाख किसी को 8 लाख ये अन्याय बर्दास्त नही।ये जमीन हमारे पुरखों द्वारा हमें मिली।हम अपनी जमीन का उचित मुवाबजा चाहते है।युवा अखिलेश तिवारी सुनील तिवारी रिंकू तिवारी आदित्य तिवारी राकेश तिवारी आचार्य बद्री विशाल आदि लोगों ने मुवाबजे को लेकर एक नारा कहते हुए कहा कि 8 लाख में दम नही 75 लाख से कम नही।

उजाड़ने से पहले बसाने की योजना लाए सरकार

श्री राम एयरपोर्ट में हो रहे भूमि अधिग्रहण में धर्मपुर गांव के किसानों जमीन खेत ही नही बल्कि उनका मकान दुकान सब जा रहा है।इसको लेकर गांव के बुजुर्ग किसानों की अपनी अलग मांग है।गांव के शीतला तिवारी राम कुमार तिवारी राम सुभावन पाठक रामचंद्र वर्मा राम गोपाल तिवारी राजेन्द्र तिवारी शिवपूजन तिवारी नरेंद्र तिवारी आदि लोगों ने कहा कि मेरी दो मांगों में पहली मांग समान कार्य पर समान मुवाबजा व दूसरा मांग उजाड़ने से पहले बसाने की योजना सरकार लाए तब हम अपनी जमीन व गांव छोड़ेंगे।इन लोगों ने कहा सरकार हम लोगों को जहां बसाए उस गांव का नाम भी धर्मपुर ही होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News