अयोध्या : टिड्डी दल का खतरा टला जिला प्रशासन किसी भी आपदा से निपटने के लिए तैयार- जिलाधिकारी

अयोध्या। जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने बताया कि जनपद में किसी भी क्षेत्र में टिड्डी दल का कोई प्रकोप नहीं है। फिर भी टिड्डी दल को नियंत्रित करने के साथ किसान बंधुओं को कोई नुकसान न हो इसकी सभी तैयारियां पूर्व में ही कर ली गई थी। यदि टिड्डी दल द्वारा जनपद में प्रवेश किया जाता है। तो हर क्षेत्र में उस को नियंत्रित करने हेतु व्यापक प्रबंध किए गए थे। इस कार्य के लिए मुख्य विकास अधिकारी को नोडल बनाया गया था। जनपद में 29 मई को मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में इस संबंध में एक बैठक कृषि, कृषि रक्षा, उद्यान, गन्ना, चीनी मिल व वैज्ञानिक के साथ हो चुकी है। जिसमें बड़े पैमाने पर की गई तैयारी का खाका प्रस्तुत किया गया था। जिलाधिकारी ने बताया कि 9 बड़े वाटर स्प्रेयर एवं 1 फागिंग मशीन अग्निशमन विभाग के पास, 42 ट्रैक्टर माउंटेड स्प्रेयर चीनी मिल रोजा गांव, 12 ट्रैक्टर माउंटेड स्प्रेयर चीनी मिल मसौधा, पांच ऑटोमेटिक स्प्रेयर एवं एक फॉर्मिंग मशीन नगर निगम, दो ऑटोमेटिक स्प्रेयर एवं एक फागिंग मशीन नगर निकाय भदरसा, 5 आटोमेटिक स्प्रेयर 8 छोटे स्प्रेयर नगर पालिका रूदौली, 6 आटोमेटिक स्प्रेयर व 2 फागिंग मशीन नगर निकाय बीकापुर, 1 टैक्टर माउन्टेन स्प्रेयर एवं 2 आटोमेटिक स्प्रेयर नगर निकाय गोसाईगंज, 10 ट्रेक्टर माउन्टेन स्प्रेयर उद्यान विभाग के अतिरिक्त किसान बन्धु के पास फसल सुरक्षा हेतु छोटे स्प्रेयर काफी संख्या में उपलब्ध है। जिलाधिकारी ने आगे बताया कि टिड्डी दल के आपदा हेतु 5 हजार लीटर दवा छिड़काव हेतु रिर्जव में रखी है तथा कीटनाशक विक्रेताओ के पास 10 से 12 हजार लीटर, रौजागाॅव चीनी मिल के पास, 3 सौ लीटर, मसौधा के पास, 9 सौ लीटर कीटनाशक दवाएॅ उपलब्ध है।

उपरोक्त के अतिरिक्त 835 न्याय पंचायत, 1257 राजस्व गाॅव की निगरानी हेतु कृषि विभाग के 155 कर्मचारियो की तैनाती कर दी गई है निकट भविष्य में यदि टिड्डी दल का आगमन होता है।प्रत्येक तहसील के नोडल उप जिलाधिकारी तथा विकास खण्ड के नोडल खण्ड विकास अधिकारी को बनाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News