अयोध्या : पलिया गोलीकांड में सुस्त है पुलिस की तफ्तीश,पंचायत के दौरान ग्राम प्रधान पर झोंक दिया था फायर

वेद प्रकाश तिवारी

मिल्कीपुर(अयोध्या) ! इनायतनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत हैरिंगटनगंज चौकी के पलिया प्रताप शाह गांव में पंचायत के दौरान हुए गोलीकांड में ग्राम प्रधान सहित दो लोगों की मौत हो गई थी।उक्त मामले में इनायत नगर पुलिस की तफ्तीश सुस्त है।यही कारण है कि घटना के 4 दिन बीत जाने के बावजूद भी पुलिस के हाथ खाली है।पुलिस न तो किसी आरोपी को गिरफ्तार कर पाई है और न ही गोलीकांड में प्रयुक्त दो अलग-अलग असलहों को चलाने वाले दूसरे व्यक्ति की पहचान कर सकी है। हालांकि क्षेत्राधिकारी मिल्कीपुर का दावा है कि मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीमें गठित कर दी गई हैं और जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर घटना का खुलासा कर दिया जाएगा।

बता दे कि पलिया प्रताप शाह गांव में बीते सोमवार 18 मई को प्रातः करीब 10 बजे जमीनी विवाद को लेकर ग्राम प्रधान की मौजूदगी में एक पंचायत चल रही थी। पंचायत में ग्राम प्रधान जयप्रकाश सिंह ने मामले में समझौता कराते हुए मामला शांत करा दिया था किंतु इसी बीच पंचायत में मौजूद उनका प्रतिद्वंदी राम पदारथ उर्फ नान्ह यादव ग्राम प्रधान से किसी बात को लेकर उलझ गये और उसने प्रधान जयप्रकाश सिंह के ऊपर फायर झोंक दिया। पंचायत में मौजूद लोगों में अफरा-तफरी मच गई और लोगों ने राम पदारथ को पकड़ना चाहा कि तब तक वहीं मौजूद किसी तीसरे व्यक्ति ने दूसरे असलहे से फायर झोंक दिया था और गोली राम पदारथ को लग गई थी।इस गोलीकांड में दोनों लोगों की मौत हो गई थी। घटना के बाद गांव सहित पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई थी और हजारों लोगों का जमावड़ा ग्राम प्रधान जयप्रकाश सिंह के गांव तथा दरवाजे पर हो गया था। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे डीआईजी डॉक्टर संजीव कुमार गुप्ता एवं जिलाधिकारी अयोध्या अनुज कुमार झा तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी ने गहन छानबीन कर गांव में एक कंपनी पीएसी सहित भारी संख्या में कई थानों की पुलिस फोर्स तैनात कर दिया था। घटना के 24 घंटे बीत जाने के बाद बीते मंगलवार को दोनों पक्षों ने मामले में मुकदमा कायम किए जाने के संबंध में तहरीर दी थी। जिसके आधार पर पुलिस ने ग्राम प्रधान के पुत्र की तहरीर पर 5 लोगों और दूसरे पक्ष के मारे गए राम पदारथ की पत्नी की तहरीर पर दो युवकों के विरुद्ध अलग अलग हत्या का मुकदमा कायम कर लिया था। घटना के 4 दिन बीत जाने के बावजूद भी पुलिस के हाथ खाली है ।और किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। क्षेत्राधिकारी मिल्कीपुर जयप्रकाश सिंह ने बताया कि मामले में कई लोगों को हिरासत में लेकर घटना की कड़ियां एकत्र की जा रही हैं जल्द ही आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा उन्होंने हत्या में प्रयुक्त किए गए दो अलग-अलग तमंचो के बारे में कहा कि जांच जारी है।

इनसेट
तमाम अनसुलझे सवालों को लेकर पुलिस हलकान
मिल्कीपुर । पलिया प्रताप शाह गांव में पंचायत के दौरान चली गोली से ग्राम प्रधान जयप्रकाश सिंह सहित उनके प्रतिद्वंदी युवक राम पदारथ उर्फ नान्ह की मौत का कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गोली लगने से उजागर हुआ है। जहां ग्राम प्रधान की मौत 315 बोर की गोली और राम पदारथ की मौत 12 बोर की गोली लगने से मौत का कारण पोस्टमार्टम के डॉक्टरों में दर्शाया है। अब घटना में तमाम अनसुलझे सवाल लोगों के जेहन में दौड़ रहे हैं। जिसमें यदि राम पदारथ ने ग्राम प्रधान जयप्रकाश सिंह के ऊपर 315 बोर के असलहे से फायर किया तब राम पदारथ को 12 बोर के असलहे से गोली मारने वाला आखिर तीसरा व्यक्ति कौन है ? फिलहाल दोहरे हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने में जिले की पुलिस पूरी तरह हलकान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News