अयोध्या : नवनिर्माणधीन भवन की खराब गुणवत्ता देख विफरे ब्लॉक प्रमुख

भवन में ठेकेदार द्वारा लगाई जा रही पीली ईंट मानक विहीन मसाला व खिड़की,ब्लॉक प्रमुख ने जिलाकृषि अधिकारी को फोन पर कराया अवगत साथ ही ठेकेदार -जेई को सुनाई खरी खोटी,80 लाख 56 हजार की लागत से बन रहा हाईटेक कृषि कल्याण केंद्र।

मवई(अयोध्या) ! मवई ब्लॉक परिसर में शासन द्वारा प्रदत्त नवनिर्माणधीन हाईटेक कृषि कल्याण केंद्र भवन का मवई ब्लॉक प्रमुख राजीव तिवारी ने निरीक्षण किया।निरीक्षण के दौरान ग्रामीणों व प्रधानों द्वारा ब्लॉक प्रमुख को बताया गया कि भवन के निर्माण में ठेकेदार द्वारा पीली खराब ईंट व मानक विहीन मसाला व लोहे की सामग्री लगाई जा रही है।भवन की आंतरिक दीवार में ब्लॉक प्रमुख ने भी पीली ईंट के प्रयोग को देखा।जिस पर ब्लॉक प्रमुख वहां मौजूद मेट पर भड़कते हुए जेई हिमांशु सिंह को फोन किया।और भवन निर्माण की जा रही धांधली को लेकर खूब खरी खोटी सुनाई।इसके बाद जिला कृषि अधिकारी को मानक विहीन हो रहे बावन निर्माण की सूचना देते हुए आवश्यक कार्रवाई की बात कही।
बता दे कि किसानों को उन्नतशील खेती के लिए वैज्ञानिक तकनीकी की जानकारी आसानी से उपलब्ध कराने के उद्देश्य से क्षेत्रीय विधायक रामचंद्र यादव के प्रयास से मवई ब्लॉक को शासन की ओर से एक हाईटेक कृषि कल्याण केंद्र का तोहफा दिया गया है।80 लाख 56 हजार रुपये की अनुमानित लागत से ब्लॉक परिसर में ही कृषि कल्याण केंद्र के भवन का निर्माण शुरू हुआ।लेकिन जेई व ठेकेदार की मिलीभगत से शुरुवाती दौर में ही बावन निर्माण में धांधली किए जाने की बात ग्रामीणों द्वारा की जाने लगी।जिसे संज्ञान में लेते हुए सोमवार को भाजपा जिला मंत्री धर्मेंद्र सिंह पूरे मुरली प्रधान अम्बिका प्रसाद यादव मवई कृषि रक्षा इकाई के प्रभारी उमाशंकर के साथ मवई ब्लॉक प्रमुख ने भवन निर्माण की गुणवत्ता को परखा।जिसमें खराब सामग्री कर प्रयोग कर मानक विहीन भवन निर्माण पर नाराजगी व्यक्त किया।ब्लॉक प्रमुख ने बताया शासन के मंशानानुरूप कार्य कराए जाने को लेकर जेई व ठेकेदार को निर्देश दिया गया है।अधिकारियों द्वारा जांच किए जाने के बाद भवन निर्माण शुरू होने का निर्देश दिया है।

दो मंजिला भवन का होना है निर्माण

राजकीय कृषि बीज भंडार मवई के प्रभारी उमाशंकर वर्मा ने बताया कि कृषि विभाग की ओर से मवई के किसानों को उन्नतशील खेती के तौर तरीके और प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए कृषि कल्याण केंद्र की स्थापना हेतु निर्माण कार्य होना है।उन्होंने बताया कि इस निर्माण कार्य मे एक मल्टी परपज सीड स्टोर,और टेक्नोलॉजी डिसेमिनेशन ट्रेनिग हाल के साथ ही कार्यालय का निर्माण होगा।इस दो मंजिला भवन की चौड़ाई और लंबाई 21 ×21 मीटर होगी।जिसमे हाईटेक ट्रेनिग हाल का निर्माण ऊपरी हिस्से में किया जाएगा।

हाईटेक होंगे किसान

विकास खंड मवई में 55 ग्राम पंचायत है।यहां के किसानो को आने वाले समय उत्तम खेती करने की गुरु सीखने को मिलेगा।राष्ट्रीय कृषि विकास योजनांतर्गत कंट्रक्शन आफ मल्टी पर्पज सीड स्टोर एंड टेक्नोलॉजी डिसिमिनेशन सेंटर का निर्माण यूपी राज्य निर्माण सहकारी संघ एजेंसी द्वारा किया जा रहा है।इससे हमारे किसान भाइयों को उन्नतशील तकनीकी के तौर तरीकों से खेती करने में मदद मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News