बेटे के शव को बाहों में लिए इधर-उधर भटकता रहा बेबस पिता, अस्पताल ने नहीं दिया शव वाहन

लखीमपुर खीरीः उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी से इंसानियत को शर्मसार करता हुआ ऐसा मामला सामने आया है, जिसे देखकर हर किसी का दिल पसीज जाए। जहां एक अस्पताल में इलाज दौरान एक मासूम की मौत हो गई। जिसके बाद बाहों में बेटे का शव लिए बेबस पिता अस्पताल परिसर के चक्कर काटता रहा कि शायद उसे कोई वाहन मिल जाए, जिससे वो अपने जिगर के टूकड़े को घर ले जा सके, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।PunjabKesari
बेटे के शव को हाथों में लिए चक्कर लगाता रहा पिता
दरअसल, नीमगांव में रहने वाले तैयब खां के 7 साल के बेटे सज्जाद की जिला अस्पताल के चिल्ड्रेन वार्ड में चल रहे इलाज के दौरान 25 जून को मौत हो गई। मौत होने के बाद बच्चे के पिता को काफी देर तक शव वाहन दिलाने के नाम पर इंतजार कराया गया। इसके बाद भी शव वाहन न मिलने से परेशान पिता बेटे की लाश को गोद में लेकर अस्पताल में इधर-उधर चक्कर लगाता रहा।PunjabKesari
पिता बाइक से शव लेकर गया घर
थक हार कर पिता ने अपने एक रिशतेदार को फोन किया। उसके बाद रिश्तेदार जब बाइक लेकर आया तो पिता उसपर ही बेटे की लाश लेकर घर गया। वहीं इस दौरान किसी ने इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो बनाया और सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।PunjabKesari
बच्चे का बीमारी को लेकर डॉक्टर कनफ्युज
बताया जा रहा है कि जिला अस्पताल में सज्जाद को भर्ती कराते समस मौजूद डॉक्टर ने बुखार और गैस्टिक से परेशान दर्ज कर चिल्ड्रेन वार्ड में भर्ती कर दिया। इस दौरान उसका इलाज भी चला। बाल रोग विभाग के डॉक्टर ने उसका बाहर से एक्स-रे और अन्य जांच भी की। साथ ही जिला अस्पताल से भी जांच कराई गयी। बच्चे की मौत के बाद उसको सेप्टी एनीमिया दर्ज कर दिया गया।PunjabKesari
बच्चे को नहीं मिला वक्त पर खून, हुई मौत
वहीं हालत ज्यादा खराब होने के कारण सज्जाद को भर्ती के दौरान डॉक्टरों ने ब्लड चढ़ाने को भी कहा। इस पर डोनर न होने पर बच्चे के पिता को ब्लड नहीं मिल सका। इसकी जानकारी होने पर सीएमएस ने ब्लड देने का निर्देश दिया। जब तक ब्लड मिल पाता बच्चे की जान चली गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News