अयोध्या :जरायम की दुनिया का शहंशाह था बिरजन,कई मुकदमे भी है दर्ज

जिले के अलावा सुल्तानपुर, अमेठी व बाराबंकी के थानो में दर्ज है तमाम केस,वर्ष 2013 का बहुचर्चित मोलहे हत्याकांड का भी रहा मुख्य आरोपी

अयोध्या(यूपी)। जवानी की दहलीज पर पहुंचते ही बिरजन के कदम जरायम की दुनिया की तरफ बढ़ गए। जरायम में एक बार कदम रखा तो बिरजन ने पीछे मुड़ कर नहीं देखा। जैसी करनी वैसी भरनी का परिणाम आखिरकार बिरजन को भुगतना पड़ा। बाराबंकी जिले के असंद्रा थाना क्षेत्र के ग्राम अनारपटी मजरे सरौन टिकठा निवासी कांग्रेस नेता मुनीर खां को वर्ष 2014 में गांव से 200 मीटर दूरी पर पुलिया के पास पीछे से बिरजन ने अपने तीन साथी बदमाशों के साथ मिलकर गोलियों से छलनी कर दिया था। मुनीर रुदौली विधानसभा से वर्ष 2012 में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव भी लड़ चुके हैं। गोली बाएं हाथ और कंधे पर लगी थी, मुनीर वहीं जमीन पर गिर पड़े। मुनीर के बेटे तौसीफ की तहरीर पर बघेड़ी गांव निवासी कुख्यात बिरजन सिंह, बेड़िया गांव सुबेहा निवासी रविंद्र व एक अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। हमले के पीछे कांग्रेस नेता द्वारा कुख्यात बदमाश बिरजन सिंह के खिलाफ भूमि विवाद में पैरवी करने का मामला सामने आया था। मृतक बिरजन सिंह रुदौली के बहुचर्चित मोलहे हत्याकांड का मुख्य अभियुक्त था और डेढ़ साल तक फरार रहा।

विरजन की चल संपत्ति हुई थी कुर्क

वर्ष 2015 में लगभग नौ माह तक पुलिस पकड़ से दूर कुख्यात अपराधी बृजेश सिंह उर्फ बिरजन सिंह की चल संपत्ति की कुर्की मवई व रुदौली पुलिस ने संयुक्त रूप से कुर्क की थी। पुलिस ने न्यायालय के आदेश पर कुर्की की कार्रवाई की थी। बताते चलें कि हत्यारोपी बिरजन सिंह पुलिस के लिए सिरदर्द बन चुका था। हत्यारोपी होने पर बाराबंकी के सुबेहा थानान्तर्गत उसके होने की सूचना पर रुदौली पुलिस ने छापा मारा था लेकिन शातिर बदमाश कोतवाली के सिपाही शिवराज पर फायरिंग कर घायल कर भाग निकला था। रुदौली नगर के बहुचर्चित मोलहे हत्याकांड में बिरजन मुख्य आरोपी था। उसने मोलहे की हत्या कर उसके स्थान पर नकली मोलहे खड़ाकर उसकी भूमि का बैनामा करा लिया था। उसके बाद से वह पुलिस को लगातार चकमा दे रहा था। उस पर गैंगेस्टर की कार्रवाई भी तत्कालीन सीओ संतोष सिंह ने की थी। कुख्यात अपराधी बिरजन के खिलाफ कई थानों में मुकदमा पंजीकृत है। उस पर ईनाम भी घोषित किया गया था।

मवई थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बघेड़ी निवासी बिरजन सिंह मवई थाना क्षेत्र का हिस्ट्रीशीटर अपराधी था। जिसके खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास सहित करीब एक दर्जन मुकदमे दर्ज हैं। बिरजन के खिलाफ फैजाबाद के रुदौली, मवई, बाराबंकी के असंद्रा, सुबेहा सहित रायबरेली व अमेठी जिले में भी उस पर कई संगीन मामले दर्ज हैं।

लंबा है अपराधिक इतिहास

बघेड़ी निवासी कुख्यात बदमाश बिरजन सिंह का लंबा अपराधिक इतिहास रहा है। मवई, रुदौली व सुल्तानपुर, अमेठी के कई थानो में उसके खिलाफ कई मुकदमें दर्ज हैं।

विधानसभा का लड़ चुका है चुनाव

बृजेश सिंह उर्फ विरजन विधानसभा चुनाव 2012 में अमर सिंह की पार्टी लोकमंच से चुनाव भी लड़ा था। जिससे उसको राजनीतिक संरक्षण की बात से इनकार नहीं किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News