मेरठ: पानी की टंकी पर चढ़कर मुस्लिम युवक ने लगाये ‘हमारा नेता कैसा हो, नरेंद्र मोदी जैसा हो’ के नारे

0

गौरतलब है कि पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोवंशों की सुरक्षा को लेकर सख्त कदम उठाये थे. जिसके बाद से काफी हद तक आवारा गायों के सड़क पर घूमने को लेकर लगाम लगाई गयी थी. सीएम योगी ने अलीगढ़ के पुलिस अधिकारियों को एक-एक गाय पालने के निर्देश भी दिए थे. पुलिस अधिकारियों के वेतन से गायों का खर्चा निकालने का ऐलान भी सीएम योगी ने किया था. अलीगढ़ के अलावा आसपास के जिलों में भी आवारा गायों की सुरक्षा के प्रति काफी सुधार किया गया था. वहीं, नगर निगम को आवारा गायों के लिए गौशाला बनवाने एवं चारा-भूसा खाने की भी जिम्मेदारी दी गयी थी. लेकिन, आवारा गायों की सुरक्षा किस कदर है, इसका एक जीता-जागता मामला सामने आया है. जहां गायों की हो रही हत्याओं को लेकर कल एक मुस्लिम युवक पानी की टंकी पर चढ़ गया और आत्महत्या करने की धमकी देने लगा. जिसको लेकर आसपास के लोग वहां इकठ्ठा हो गए और युवक से नीचे उतरने की गुहार लगाते रहे.

सपने में गाय मुझे मारने आती है

पूरा मामला मेरठ जिले के सिविल लाइन थाना क्षेत्र का है. जहां बुधवार को एक मुस्लिम युवक जल निगम की टंकी पर चढ़ गया. एक हाथ में पेट्रोल की बोतल और दूसरे हाथ में लाउड स्पीकर लेकर टंकी पर चढ़े युवक ने धमकी दी कि अगर किसी ने ऊपर आने की कोशिश की तो वह खुद पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा लेगा. इस युवक का नाम जिया उल हक है और ये लिसाड़ी गेट के खुशहाल नगर का रहने वाला है. दोपहर 12 बजे जिया उल हक ने पेट्रोल की दो बोतल और लाउडस्पीकर लिया और जल निगम की टंकी पर चढ़ गया. उसका कहना है कि ‘देश में गायों की हत्या हो रही है. रात को सपने में गाय आकर उसे टक्कर मारती हैं. यदि उन्हें नहीं बचाया गया तो वह अपनी जान दे देगा. इसी वजह से परेशान होकर वह टंकी पर चढ़ा है’. मामले की सूचना मिलते ही पुलिस में हड़कंप मच गया. हालांकि, लोगों ने युवक को समझा-बुझाकर टंकी से उतारकर पुलिस को सौंप दिया.

टंकी के चारो तरफ पुलिस ने लगाया जाल

युवक ने धमकी दी कि अगर किसी ने ऊपर आने की कोशिश की तो वह खुद पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा लेगा. जिसकी पूरी जिम्मेदारी पुलिस प्रशासन की होगी. जिया उल हक टंकी से न कूद जाए इसलिए पुलिस ने टंकी के चारों तरफ जाल लगा दिया. यह देख कर जिया उल हक ने पेट्रोल छिड़कना शुरू कर दिया और सीढ़ियों पर आग लगाकर जाल हटाने की मांग की. इसे देखकर पुलिस ने आनन-फानन में जाल हटा दिया. जिया उल हक को मनाने में पुलिस अधिकारियों के पसीने छूट गए. 3 घंटे की मशक्कत के बाद लोगों ने जिया उल हक को टंकी से नीचे उतारा. इस दौरान कुछ लोगों ने उसकी जमकर पिटाई कर दी. पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने फोर्स के साथ टंकी की घेराबंदी कर दी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

error: Content is protected !! © KKC News