जवानों ने लिया बदला-जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में एनकाउंटर में जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकवादी ढेर

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस मुठभेड़ में पुलवामा आत्मघाती हमले का मास्टरमाइंड गाजी रशीद के भी मारे जाने की खबर।

रविवार रात से चल रही इस मुठभेड़ में कामरान नामक एक अन्य आतंकवादी भी ढेर।

सुरक्षाबलों ने आतंकियों के छिपने के ठिकाने को विस्फोट से उड़ा दिया।

काल्पनिक तस्बीर

श्रीनगर-:
=======जम्मू-कश्मीर में पुलवामा में रात 12 बजे से चल रहे एनकाउंटर में जैश-ए मोहम्मद के दो आतंकवादी मारे गए हैं। खबरों के मुताबिक इस मुठभेड़ में पुलवामा में CRPF काफिले पर आत्मघाती हमले का मास्टरमाइंड गाजी रशीद के भी मारे जाने की सूचना है। हालांकि अभी इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। करीब 11 घंटे चले मुठभेड़ में कामरान नामक एक अन्य आतंकवादी भी ढेर किया गया है। हमारे सहयोगी चैनल टाइम्स नाउ के मुताबिक अभी भी 5 आतंकवादियों के छिपे होने की खबर है।मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, कामरान और गाजी रशीद पुलवामा हमले के बाद भागने में कामयाब रहे थे जबकि एक आतंकी मोहम्मद आदिल डार आत्मघाती हमले में मारा गया था। एजेंसियों से मिली सूचना के मुताबिक गाजी जैश के सरगना मौलाना मसूद अजहर के सबसे विश्वसनीय करीबियों में से एक है। गाजी को युद्ध तकनीक और IED बनाने का प्रशिक्षण तालिबान से मिला है और इस काम के लिए उसे जैश का सबसे भरोसेमंद माना जाता है। गाजी रशीद ही पुलवामा का मुख्य साजिशकर्ता था, जबकि कामरान भी उसके साथ हमले की साजिश में शामिल था।बताया रहा है कि गाजी रशीद 9 दिसंबर को ही सीमा पार कर कश्मीर में घुस आया था। पुलवामा हमले के बाद सुरक्षा बलों ने उसे पकड़ने के लिए व्यापक तलाशी अभियान शुरू किया था। एनकाउंटर के दौरान सुरक्षाबलों ने उस इमारत को बम से उड़ा दिया जिसमें आतंकी छिपे थे। बता दें कि पुलवामा के पिंगलिना में खबर मिलने पर सुरक्षाबलों ने आतंकवादियों को घेर लिया था।इससे पहले देर रात से सोमवार तड़के तक चली मुठभेड़ में 55 राष्ट्रीय राइफल्स के मेजर समेत चार जवान शहीद हो गए। शहीदों में मेजर डीएस ढौंडियाल, हवलदार शियो राम, सिपाही अजय कुमार और सिपाही हरि सिंह थे। सभी शहीद जवान 55 राष्ट्रीय राइफल्स के थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News