व्यवसाई पर जानलेवा हमला करने वालों के विरुद्ध संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज,दिन में मुर्दाबाद तो रात में पुलिस ने लगवाए जिन्दाबाद के नारे।

सीओ ने तत्परता दिखाते हुए मामले में चार आरोपियों को किया गिरफ्तार।

शुक्रवार की शाम चाट व्यवसाई पर किये गए हमले के आरोपी चार लोगों को पुलिस ने भेजा जेल।

मवई(अयोध्या) ! पटरंगा थाना अन्तर्गत रानीमऊ चौराहे पर शुक्रवार की शाम हुए व्यवसाई पर हमले के मुख्य आरोपी शिबू सहित तीन अन्य को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।गिरफ्तार आरोपियों को पुलिस ने संगीन धाराओं में रविवार को जेल भेज दिया है।मामले में फरार चल रहे अन्य आरोपियों की भी गिरफ्तारी के प्रयास जारी है।

इसे भी देखे और अपने यूट्यूब चैनल kkc news को सब्सक्राइब करना न भूलें।

बता दे कि गुरुवार की शाम बाराबंकी जिले के असंदरा थाना अन्तर्गत मोहम्मद नगर निवासी शिब्बू अपने पांच अन्य साथियों के साथ रानीमऊ चौराहा निवासी रामफेर गुप्त की चाट मटर की दुकान पर पहुंच पानी बतासा खाया।पैसा शिब्बू के साथी जफर ने दे दिया।शिब्बू अपने दोस्तों को छोड़ वापस चाट मटर की दुकान पर आए।दुकानदार चंद्र प्रकाश गुप्त बताया शिब्बू दुकान पर आया और गाली देतेे हुए कहा कि तुमने मेरे दोस्त से पैसा क्यो लिया।व्यवसायी ने जब इसकी शिकायत करने शिब्बू के रिस्तेदार पड़ोस में राह रहे झब्बू से किया तो शिब्बू उसका तावा उलटकर व्यवसायी को मारने लगा।लोगों ने बीच बराव भी किया लेकिन शिब्बू उसे देख लेने की धमकी देते हुए चला गया।व्यवसाई चंद्र प्रकाश ने बताया शनिवार की देर शाम शिब्बू पुनः अपने दोस्तों के साथ दुकान पर आया।जहां उसके न मिलने पर उसके फूफा रामफेर गुप्त पुत्र रामअनंत पर लोहे की रॉड से हमला करते हुए लहूलुहान कर दिया।और उसकी चाट मटर की दुकान को भी पलटकर मौके से फरार हो गया।मामला तब विगड़ गया जब पीड़ित की सूचना पर यूपी0 100 की टीम मौके पर गई और बिना पीड़ित से मिले सीधे आरोपी के घर गए।जहां चाय नास्ता कर वापस चले गए।मामले में थानाध्यक्ष बृजेश सिंह ने भी खूब संवेदनहीनता दिखाई।बीच चौराहे पर एक दिन पूर्व दी गई धमकी के तहत दबंग युवकों ने पुनः उसकी दुकान पर दावा बोल व्यवसाई पर जानलेवा हमला कर लहुलूहान कर दिया और थानाध्यक्ष मौके तक पहुंच पीड़ित को आश्वासन तक नही दिए।उसके बाद एक भी आरोपी को गिरफ्तार न करना पुलिस का विपक्षी के यहां बैठना इन सब बातों से खिन्न रानीमऊ के सभी व्यापारी शनिवार की सुबह दुकानें बंद कर प्रदर्शन करने लगे।और आरोपियों व थाना प्रभारी पर कार्रवाई की मांग करने लगे।मौके पर पहुंचे सीओ अमर सिंह ने तत्परता दिखाते हुए तीन अलग अलग टीमों को आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिये रवाना किया।और तीन घंटे के अंदर हमले के मुख्य आरोपी शिब्बू सहित तीन अन्य को गिरफ्तार कर लिया।तब जाकर व्यापारी शांत हुए।मामले में एसओ की कार्यशैली पर सीओ भी नाराज दिखे।उन्होंने कहा ऐसे मामले में तनिक भी लापरवाही नही करनी चाहिये।पटरंगा पुलिस के मुताविक हमले के आरोप में गिरफ्तार किए गए बाराबंकी जिले असंदरा थाना निवासी शिब्बू मोहम्मदनगर,पूरे दला का पुरवा निवासी मो0 सैफ व मो0 जाफर के अलावा मो0 शाकिब ग्राम मोहम्मदपुर थाना मवई को दफा 147,148,149,323,504,506,308 के तहत जेल भेज दिया गया है।मामले में फरार चल रहे अन्य आरोपियों की तलाश जारी है।

दिन में मुर्दाबाद तो रात में पुलिस ने लगवाए जिन्दाबाद के नारे।

हमले में आरोपियों की गिरफ्तारी न होने व संवेदनहीनता बरतने वाले थाना प्रभारी को हटाने की जिद पर अड़े व्यापारियों ने शनिवार की सुबह से लेकर दोपहर तक प्रदर्शन कर पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाए।लेकिन चार आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद पटरंगा थाने की पुलिस मय सीओ की मौजूदगी में जिन्दाबाद के नारे लगवाए।और उस वीडियो पुलिस मित्र सहित अन्य शोशल साइडों पर वायरल किया गया।मामले में व्यापारियो का आरोप है कि पुलिस के कहने पर लोगों ने जिन्दाबाद के नारे लगाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !! © KKC News